Naxal Breaking : ऑपरेशन संपर्क अभिायान ने फिर लाया रंग मुखबीर की सूचना से तीन स्थाई वारंटी गिरफ्तार

ऑपरेशन प्रहार-2 के बाद ऑपरेशन संपर्क अभियान ने पुलिस को फिर सफलता दिलाई है इससे साबित होता है कि, अंदरूनी इलाकों में पुलिस के प्रति विश्वास बढ़ रहा है

By: ajay shrivastav

Updated: 10 Nov 2017, 04:15 PM IST

बीजापुर. ऑपरेशन प्रहार-2 के बाद ऑपरेशन संपर्क अभियान ने पुलिस को फिर सफलता दिलाई है इससे साबित होता है कि, अंदरूनी इलाकों में पुलिस का विश्वास बढ़ रहा है। जिससे पुलिस नक्सलियों तक या स्थाई वारंटियों तक पहुंच पा रही है। नक्सल सर्चिंग अभियान के तहत आरोपियों की तलाश में गश्त सर्चिंब पर निकले थे। आज पुलिस ने तीन स्थाई वारंटियों को गिरफ्तार कर थाने में पूछताछ करने के बाद न्यायालय पेश न्यायालय में पेश किया गया जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया।

नक्सल गश्त सर्चिंग आरोपियों की पता तलाश पर रवाना हुये थे
मिली जानकारी के अनुसार पुलिस महानिरीक्षक बस्तर रेंज विवेकानन्द सिन्हा, उप पुलिस महानिरीक्षक पी. सुंदर राज, उप महानिरीक्षक, ऑप्स केरिपु, आलोक अवस्थी के मार्गदर्शन पर पुलिस अधीक्षक बीजापुर एम.आर. आहिरे, कमांडेंट 204 कोबरा पुष्पेन्द्र सिंह, अति. पुलिस अधीक्षक मोहित गर्ग, अनुविभागीय अधिकारी पुलिस आपावल्ली श्री नितिश ठाकुर के दिशा निर्देशन पर थाना बासागुड़ा से कमांडेंट 204 कोबरा पुष्पेन्द्र सिंह निरीक्षक शरद सिंह के हमराह जिला बल, एसटीएफ एवं कोबरा 204 का सयुंक्त बल दिनांक 09.10.2017 के रात्रि 10.30 बजें बुडगीचेरू की ओर नक्सल गश्त सर्चिंग आरोपियों की पता तलाश पर रवाना हुये थे ।

नक्सली गश्त सर्चिंग के दौरान ग्राम बुडगीचेरू जंगल से मुखबीर की सूचना एवं निशानदेही पर नक्सली मामलो में फरार नामजद 03 आरोपियों को पकड़ा गया । पहला आरोपी उईका जोगा पिता कोड़ता उम्र 24 वर्ष मुरिया साकिन भटटीगुड़ा गायता पारा दूसरा आरोपी मड़कम सोमड़ू पिता मड़कम हिड़मा उम्र 21 वर्ष जाति मुरिया साकिन भटटीगुड़ा गायता पारा तथा तीसरा आरोपी कुंजाम बोडडा पिता स्व. कुंजाम देवा उम्र 40 वर्ष जाति मुरिया साकिन नरसापुर थाना बासागुड़ा जिला बीजापुर जो थाना बासागुड़ा के अतंगत आने वाले है ये सभी विस्फोटक पदार्थ अधिनियम में नामजद आरोपी है ।

इन तीनों आरोपियों की तलाश में पुलिस ने पूरे जंगल की छान मार ली मुखबिर की सुचना के अनुसार सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर बासागुड़ा थाने में पूछताछ करने के बाद सभी ने अपना गुनाह कबूला और फिर शुक्रवार को दिनांक 10.11.2017 को थाना बासागुड़ा में विधिवत गिरफ्तारी उपरान्त न्यायालय बीजापुर पेश किया गया।

ajay shrivastav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned