ठेकेदारों का धीमा काम, सैकड़ों गांव अंधेरे में

ठेकेदारों का धीमा काम, सैकड़ों गांव अंधेरे में
Power demand

Ajay Shrivastava | Publish: Jun, 11 2016 11:43:00 PM (IST) jagdalpur

राजीव गांधी ग्रामीण विद्युतीकरण योजना के तहत चयनित 190 गांवों में मात्र 41 में ही हुआ काम, कई इलाकों में बिना तार के खड़े हैं बिजली के खंभे।

जगदलपुर.छत्तीसगढ़ राज्य विद्युत वितरण कंपनी ठेकेदारों के भरोसे कार्य चल रहा है। अभी तक राजीव गांधी ग्रामीण विद्युतीकरण योजना के तहत कार्य पूरे नहीं हो पाए हैं।

190 गांवों का ही रिटेंडर किया गया था, जिसमें 41 गांव का ही विद्युतीकरण हो पाया है और 24 का कार्य चल रहा है। वहीं बिजली नहीं होने से सैकड़ों गांव अंधेरे में है।

गौरतलब है कि विद्युत कंपनी सारे कार्य ठेकेदारों के माध्यम से करवाती है। ग्रामीण इलाकों से पहुंचकर लोग बिजली की मांग कर रहे हैं, लेकिन उन्हें आश्वासन के सिवाय कुछ हासिल नहीं हो रहा है। वहीं दीन दयाल ग्रामीण विद्युतीकरण योजना के तहत

14 गांवों में 3 गांवों का ही विद्युतीकरण हुआ है और 7 गांव में कार्य किया जा रहा है। कई ग्रामीण इलाकों में बिजली के खंभे बिना तारों के खड़े हुए हैं। गांव वाले आस लगाए हुए हैं, लेकिन उनका इंतजार बढ़ता जा रहा है।

स्कूल भी प्रभावित
विद्युत कंपनी स्कूलों का प्राथमिकता के आधार पर विद्युतीकरण कर रही है। स्कूल खुलने वाले हैं, लेकिन अभी तक कई स्कूलों में विद्युतीकरण नहीं है। जिले में लगभग 1726 स्कूल है जिनमें से 700 स्कूलों का विद्युतीकरण नहीं हुआ है। इससे ग्रामीण स्कूल के बच्चे इस बार भी पसीना पोछते अंधेरे में ही पढेंगे।

पीएन सिंह, कार्यपालन अभियंता राजीव गांधी ग्रामीण विद्युतीकरण योजना के तहत पहले के ठेकेदार धीमा कार्य कर रहे थे। इस वजह से रिटेंडर किया गया है। वर्तमान में दो ठेकेदार कार्य कर रहे है। स्कूल का विद्युतीकरण मार्च 2017 तक पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned