माचकोट के जंगल में हुई मुठभेड़ जिसमें मारे गए 7 नक्सली, पढि़ए घटना से जुड़ी 10 बड़ी बातें

माचकोट के जंगल में हुई मुठभेड़ जिसमें मारे गए 7 नक्सली, पढि़ए घटना से जुड़ी 10 बड़ी बातें

Badal Dewangan | Publish: Jul, 28 2019 01:09:36 PM (IST) Jagdalpur, Jagdalpur, Chhattisgarh, India

कल शाम माचकोट एवं तिरिया के जंगलों में हुई इस मुठभेड़ (Police Naxal Encounter) में 7 नक्सलियों की मौत हुई है। लेकिन सुत्रों का कहना है कि, मरने वाले नक्सलियों की संख्या 12 है।

Bastar naxal encounter : कल शाम माचकोट के जंगलों में हुई पुलिस नक्सली मुठभेड़ जिसमें जिसमें 3 महिला नक्सलियों के साथ जवानों ने कुल 7 नक्सलियों को मार गिराया है। जिनके शव भी जवानों ने बरामद कर लिए है। शव की बरामदगी के साथ ही जवनों को 7 नग भरमार सहित एक इंसास भी बरामद हुआ है।

जानिए घटना से जुड़ी 10 बड़ी बातें
1. नगरनार थानाक्षेत्र के माचकोट व तिरिया में ओडिशा के करीब 40 से 50 नक्सली इस घने जंगलों में पिछले एक दशक से पैर जमाने की फिराक में थे उसी वजह से सभी नक्सली मीटिंग के लिए एकजुट हुए थे।

Read More: माचकोट में मिली सफलता के बाद दंतेवाड़ा में जवानों ने नक्सलियों के चार कैंप को किया ध्वस्त

2 मुखबिर से सूचना मिलते ही जवानों की तीन टीम डीआरजी, एसटीएफ सीआरपीएफ की संयुक्त टीम माचकोट के जंगलों पर सर्चिंग के लिए निकली थी।

3. जिस जगह कल शाम वारदात हुई वह जगह घने जंगलो से घिरी है जहां नक्सली कई सालों से अपने पैर जमाने की कोशिश में थे इसलिए उस जगह की सर्चिंग के लिए नक्सली वहां आए हुए थे

4. जहां पर नक्सली एकत्र हुए थे वहां नक्सली पिछले एक दशक से पैर जमाने की फिराक में हैं। यह इलाका घने जंगलो से घिरा है।

5. छह माह पहले भी इस इलाके में माओवादियों की मूवमेंट की खबर थी, लेकिन इस बार ऑपरेशन लांच कर उनके पैर जमाने से पहले ही बड़ा नुकसान माओवादियों को पहुंचा दिया है।

6. जिस इलाके में नक्सली अपने पैठ जमाने की कोशिश कर रहे हैं, यह इलाका माओवादियों के लिए इसलिए भी बेहतर हैं क्योंकि इस जंगल के जरिए वे ओडिशा से दरभा, सुकमा, बीजापुर, तेलंगाना और सीमांध्र तक से जुड़ सकते हैं।

7. शहर से मात्र 35 किमी दूर और अक्सर जंगल प्रेमियों के पिकनिक स्पॉट में से एक माचकोट-तिरिया के जंगल में माओवादियों की मूवमेंट की खबर से इन लोगों में हडकंप मचा हुआ है।

8. लगातार तीन दिन तक नक्सलियों की लोकेशन ट्रेस करने के बाद शनिवर को ऑपरेशन लांच किया गया। डीआरजी और जिला पुलिस के जवानों को बीआर मंडावी नेतृत्व वाली इस टीम ने ऑपरेशन को सफल साबित करते हुए सात माओवादियों को मार गिराया।

9. बताया जा रहा है कि मारे गए लोगों में तीन महिला और चार पुरूष माओवादी हैं। लेकिन पुलिस सूत्रों की माने तो मुठभेड़ में मारे गए लोग बस्तर के ही हैं। जबकि ओडिशा से आए माओवादी एक दिन पहले ही वापस लौट गए थे।

10. इस इलाके में नगरनार में बने एनएमडीसी प्लांट में पानी पहुंचाने के लिए स्लरीपाइप गुजरने वाली है इसका निर्माण किया जा रहा है। पाइनलाइन का भी काम पूरा हो चुका है। एसे में इस इलाके में माओवादियों की मूवमेंट से इस निर्माणाधीन प्लांट पर भी खतरा मंडरा रहा है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned