आत्मसमर्पित इनामी माओवादी गोपी के खिलाफ नक्सलियों ने जारी किया फरमान, कहा धोखेबाज को इसतरह देंगे सजा

2008 में भी माओवादी विचारधारा से क्षुब्ध होकर समर्पण करने के फिराक में था। लेकिन बड़े माओवादियोंं ने समझा कर वापस पार्टी में बनाये रखा।

By: Badal Dewangan

Published: 06 Jun 2020, 02:03 PM IST

बीजापुर. जिले के गंगालुर एरिया कमेटी के सचिव दिनेश मोडियाम ने प्रेस नोट जारी कर समर्पित माओवादी गोपी मोडियाम को गद्दार बताते हुए जनअदालत में सजा देने की बात कही। प्रेस नोट में माओवादी कमांडर ने समर्पित माओवादी गोपी पर पुलिस के साथ मिलकर गंगालुर क्षेत्र के पामलवाया, चेरपाल, पदेडा, रेगडगट्टा, मुनगा पेद्दाकोरमा, मनकेलि, गोरना, इसुलनार सहित कई जगह पर ग्रामीणों को परेशान करने और मुठभेड़ करवाने का आरोप लगाया। ज्ञात हो कि आठ लाख के इनामी माओवादी कमांडर गोपी ने कुछ दिनों पहले ही सुकमा रायपुर पुलिस के सामने आत्मसमर्पण किया था।

गोपी ने अपनी माओवादी प्रेमिका के साथ समर्पण कर दिया
गोपी मोडियाम 2002 में माओवादियों की टीम में शामिल हुए था और 2006 में गंगालुर एरिया सरकार का अध्यक्ष बनाया गया था। प्रेस विज्ञप्ति के अनुसार 2008 में भी माओवादी विचारधारा से क्षुब्ध होकर समर्पण करने के फिराक में था। लेकिन बड़े माओवादियोंं ने समझा कर वापस पार्टी में बनाये रखा। लेकिन 2020 में शादी शुदा रहने के बावजूद दो अन्य महिला माओवादियोंं के साथ अवैध संबंध की शिकायत मिलने पर जांच की जा रही थी। उसी दौरान गोपी ने अपनी माओवादी प्रेमिका के साथ पुलिस के सामने समर्पण कर दिया।

Show More
Badal Dewangan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned