दो राज्यों का खुखांर नक्सली था नागेश, छत्तीगढ़ व ओडिशा राज्य की ओर से कुल 9 लाख का इनामी नक्सली हुआ ढ़ेर

पुलिस पार्टी के बढ़ते दबाव को देख नक्सली घने जंगल व पहाड़ का आड़ लेकर नक्सली भाग गये।

 

By: Badal Dewangan

Published: 18 Apr 2020, 04:24 PM IST

सुकमा. सुकमा जिले में हुए पुलिस नक्सली मुठभेड़ में जवानों ने एक बार फिर अपने साहस का परिचय देते हुए एक नक्सली को मार गिराया है जिसपर छग शासन ने 5 लाख का इनाम घोषित किया था। जिला सुकमा में चलाये जा रहे नक्सल उन्मूलन अभियान के तहत थाना पुसपाल क्षेत्रांतर्गत ग्राम चितलनार, मुंडवाल के जंगलों में ओड़िसा के कुछ माओवादी नक्सलियों की उपस्थिति की विश्वसनीय स्थानीय सूचना पर दिनांक 17 अप्रैल को थाना पुसपाल से उप पुलिस अधीक्षक प्रतीक चतुर्वेदी के हमराह डीआरजी की पार्टी नक्सल गश्त सचिंग हेतु चितलनार, मुंडवाल व आसपास जंगल क्षेत्र की ओर रवाना हुये थे कि शाम को पुलिस पार्टी द्वारा ग्राम चितलनारए मुंडवाल के जंगल पहाड़ी का सर्च करते समय पुलिस पार्टी तथा सशस्त्र सादे वेशभूषा में तथा वर्दीधारी नक्सलियों का आमना.सामना होने से नक्सलियों द्वारा पुलिस पार्टी पर अंधाधुंध फायरिंग की गई।

पुलिस पार्टी द्वारा भी जवाबी कार्यवाही में फायरिंग किया गया। पुलिस पार्टी के बढ़ते दबाव को देख नक्सली घने जंगल व पहाड़ का आड़ लेकर भाग गये। मुठभेड़ पश्चात् पुलिस पार्टी द्वारा घटना स्थल की सर्चिग करने पर 01 पुरूष नक्सली का शव व शव के पास से 01 नग 315 बोर बंदूक तथा पिठ्ठू जिसमें से 1 नग टिफिन बम, 2 नग हेण्ड ग्रेनेडए 3 नग डेटोनेटर, कोर्डेक्स वायर, नक्सल पर्चा. नक्सली साहित्य एवं अन्य दैनिक उपयोगी सामग्री मिली तथा मुठभेड़ में अन्य नक्सलियों के घायल होने की भी संभावना है। पूर्व आत्मसमर्पित नक्सलियों द्वारा मृत नक्सली की पहचान पोडियम कामा उर्फ नागेश के रूप में हुई है जो नक्सली आन्ध्र-ओड़िसा बॉर्डर स्पेशल जोनल कमेटी में एरिया कमेटी सदस्य के पद पर सक्रिय रूप से कार्यरत था। मृत नक्सली कालीमेला क्षेत्र में सक्रिय था। उक्त नक्सली पर छ०ग० शासन द्वारा 05 लाख व ओड़िसा शासन द्वारा 04 लाख का ईनाम घोषित किया गया था।

Show More
Badal Dewangan
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned