ढाई महीने में पांचवीं बार विजय कुमार पहुंचे बस्तर अब इंटर स्टेट ज्वाइंट ऑपरेशन से घेरने की तैयारी

- माओवादी खात्मे को लेकर तैयार किया खाका
- पहली बार विशेष सुरक्षा सलाहकार की बैठक में आरक्षक से लेकर आईजी रैंक तक के अधिकारी हुए शामिल

- दक्षिण बस्तर के अधिकारी हुए शामिल

By: Shaikh Tayyab

Published: 07 Mar 2020, 12:08 PM IST

जगदलपुर. माओवादी मोर्चे को लेकर सरकार कितनी गंभीर है इस बात का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि केद्रीय विशेष सुरक्षा सलाहकार के. विजय कुमार अपने ढाई महीने के कार्यकाल में पांचवी बार बस्तर पहुंचे हैं। शुक्रवार को बस्तर पहुंचे विजय कुमार ने दक्षिण बस्तर के सभी अधिकारियों की बैठक ली। पहली बार ऐसा हुआ कि आरक्षक से लेकर आईजी रैंक तक के अधिकारी शामिल थे। आरक्षक दल के प्रतिनिधि के तौर पर एक जवान को बैठक में शामिल किया गया था। तीन घंटे तक बंद कमरे में चली इस बैठक में सुरक्षा सलाहकार ने हाल ही में चलाए ऑपरेशन से लेकर आगामी ऑपरेशन तक को लेकर बात की। सूत्रों के अनुसार उन्होंने यहां माओवादियों के खिलाफ इंटर स्टेट कोओर्डिनेशन प्लान को अधिकारियों के सामने रखा। इस बैठक में उन्होंने कहा कि माओवादी राज्य की सीमा का सहारा लेकर अपना बचाव कर रहे हैं इसलिए अब पुलिस ज्वाइंट ऑपरेशन चलाएगी जिसमें तीन व उससे अधिक राज्य के पुलिस साथ में माओवादियों की घेराबंदी कर उनके इस प्लान को तोड़ेंगे। इस नीति के जरिए उन्होंने माओवादियों के कोर इलाकों को चिन्हाकिंत भी किया है, जहां जल्द ही ऑपरेशन शुरू किए जा सकते हैं।

दक्षिण बस्तर पर विशेष फोकस
विशेष सुरक्षा सलाकार पी. विजय कुमार का पिछले दो दौरे को ध्यान दें तो इसमें वे उत्तर से ज्यादा दक्षिण बस्तर पर फोकस करते नजर आ रहे हैं। पिछले दौरे में वे दंतेवाड़ा और सुकमा पहुंचे थे और यहां उन्होंने अधिकारियों की बैठक लेकर माओवादियों और पुलिस की ताकत को समझते हुए ऑपरेशन की समीक्षा की थी। वहीं वे इसके बाद हैदराबाद व महाराष्ट्र निकल गए थे। जहां पुलिस अधिकारियों संग बैठक की थी। उस समय भी जानकारी सामने आई थी ज्वाइंट ऑपरेशन को लेकर उन्होंने वहां चर्चा की है।

हाल ही में हुए ऑपरेशंस को लेकर भी की चर्चा

बैठक में हाल ही में चलाए गए ऑपरेशन प्रहार को लेकर भी उन्होंने अधिकारियों से चर्चा की और इसकी विस्तार से समीक्षा की गई। यहां उन्होंने मोर्चे में आनी वाली परेशानियों और इसके सुझाव को लेकर भी चर्चा की। उन्होंने अधिकारियों से पुलिस कैंप को लेकर भी जानकारी मांगी और आने वाले समय में कहां कहां इसे खोला जाना है इसे लेकर चर्चा की।

वर्सन

विशेष सुरक्षा सलाहकार के. विजय कुमार ने दक्षिण बस्तर के आरक्षक से लेकर उच्च अधिकारियों की बैठक ली। संयुक्त सैनिक सम्मेलन में सीआरपीएफ, डीआरजी, कोबरा समेत अन्य सभी फोर्स के अधिकारी बैठक में शामिल हुए थे। इसमें माओवादी मोर्चे से लेकर अन्य क्षेत्रों पर चर्चा हुई। क्यों कि यह बैठक की जानकारियां कांफिडेंशियल है, इसलिए ज्यादा कुछ नहीं बताउंगा।

पी. सुंदरराज, आईजी, बस्तर रेंज

Shaikh Tayyab Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned