महिला की हत्या मामले को सुलझाने पुलिस जोड़ रही कडिय़ां, जल्द सुलझेगी गुत्थी

परिवारिक विवाद की दिशा में महिला की हत्या की पड़ताल, पुलिस की तफ्तीश में परिवार के लोग ही आ रहे घेरे में। पुलिस का दावा जल्द सुलझेगी हत्या की गुत्थी।

By: ajay shrivastav

Published: 03 Nov 2017, 08:27 PM IST

महिला का शव मिलने से फैली सनसनी, गुत्थी सुलझाने कडिय़ां जोडऩे में उलछी पुलिस

दंतेवाड़ा. कटेकल्याण थाना क्षेत्र में डुमाम नदी के पास रानी मड़कामी (45) का शव हत्या कर फेंका गया था। पुलिस की पड़ताल में हत्या हुई है, यह बात साफ हो गई। महिला की हत्या में चल रही जांच में पुलिस का शक परिवार के लोगों पर ही आ कर टिक रहा है। बताया जा रहा है कि पारिवारिक विवाद आपस में शादी को लेकर कुछ सालों से चला आ रहा है।

Read More : 60 साल में पहली बार सड़क विहिन गांव पहुंचे विधायक, तो ग्रामीणों ने कुछ इस अंदाज में किया स्वागत

परिजनों से पूछताछ जारी
पुलिस सूत्र बता रहे है कि उसी घर में बेटी की शादी हुई और वहीं से बहू को लेकर आए। इस बात को लेकर विवाद चला आ रहा था। हलांकि पुलिस इस विवाद को हत्या की ठोस कहानी नहीं मान रही है। दो पुरुष और एक महिला को हिरासत में लेकर चल रही पूछताछ में ये बातें सामने आ रही है। पुलिस का दावा है कि जल्द ही इस मामले की गुत्थी को सुलझा दिया जाएगा। कडिय़ों को जोड़ा जा रहा है, जैसे ही पूरी कडिय़ा जुड़ी मामला खुल जाएगा।

Read More : बेबस पिता बीमार बेटी को इलाज के लिए कंधे पर बिठाकर पहुंचा 10 किमी दूर हास्पिटल

क्या था मामला
पुलिस के मुताबिक रानी मड़कामी शुक्रवार बाजार के दिन अपनी बीमार बेटी जोगी को देखने आई थी। वह काफी दिनों से बीमार है। अपनी बेटी को देख कर परचेली लौट रही थी। नदी के पास उसकी हत्या कर शव को फेंक दिया गया। तीन दिन बाद डुमाम नदी के पास उसका शव मिला था। पोस्टमार्ट महिला का हो चुका है। हालांकि पुलिस को रिपोर्ट नहीं मिली है।

Read More : बेरोजगार युवकों के लिए सुनहरा अवसर, 583 पदों में होनी है भर्ती, जरुर पढ़ें खबर

जल्द ही मामले का होगा खुलासा
कटेकल्याण थाना प्रभारी विजय पटेल ने बताया कि कुछ लोगों से पूछताछ की जा रही है। जल्द ही मामले का खुलासा होगा। परिवारिक विवाद के चलते भी इस हत्या को अंजाम दिया जा सकता है।

ajay shrivastav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned