पहली कार्रवाई से बचकर खुद को डॉक्टर बताते हुए, नर्सिंग होम में कर रहा था मरीजों का इलाज, जब खुलासा हुआ तो

पहली कार्रवाई से बचकर खुद को डॉक्टर बताते हुए, नर्सिंग होम में कर रहा था मरीजों का इलाज, जब खुलासा हुआ तो
पहली कार्रवाई से बचकर खुद को डॉक्टर बताते हुए, नर्सिंग होम में कर रहा था मरीजों का इलाज, जब खुलासा हुआ तो

Badal Dewangan | Updated: 23 Sep 2019, 05:36:40 PM (IST) Jagdalpur, Jagdalpur, Chhattisgarh, India

जांच करने के बाद झोलाझाप डॉक्टर के नर्सिंग होम को प्रशासन ने किया सील

कोण्डागांव . जिला प्रशासन की टीम ने रविवार की सुबह छापेमार कार्रवाई करते हुए चिपावंड स्थिति एक झोलाछाप डॉक्टर के नर्सिंग होम में कार्रवाई करते हुए उसे सील कर दिया। जानकारी के मुताबिक ग्रामीणों से मिली शिकायत के बाद रविवार को एसडीएम, तहसीलदार, सीएमएचओ, पुलिस व कोटवार की एक संयुक्त टीम बनाकर मौके पर पहुंची और जांच में जुट गई। मौके पर झोलाछाप डाक्टर लच्छुराम चक्रधारी के अवैध तरीके से चलाए जा रहे नर्सिंग होम में पांच मरीज भर्ती थे, जबकि कुछ मरीज कतार में इलाज के लिए बैठे हुए थे। जब टीम मौके पर पहुंची तो झोलाछाप हड़बड़ा गया और उसने निर्धारित समय पर कोई वैध दस्तावेज नहीं दिखा पाया। जंाच के दौरान टीम को बड़ी मात्रा में उसके नर्सिंग होम से दवाईयों का जखीरा भी मिला है। जिसे जब्ती कर उसे इस अवैध नर्सिंग होम को नियमानुसार सील की कार्रवाई करते हुए उसे एसडीएम कोर्ट में पेश किया गया जहां से जमानत पर उसे बेल दे दिया गया हैं। बताया जा रहा है कि, झोलाछाप डाक्टर पर नर्सिंग होम एक्ट के तहत भी कार्रवाई की जाएगी। आपको बता दें कि, इससे पहले भी इस डॉक्टर पर कार्रवाई की जा चुकी है, बावजूद इसके वह अपनी इस तरह की दुकानदारी करने से बाज नहीं आ रहा।

Read More: न 4 मतदान केंद्रो में महज 5% मतदान, जबकि 300 मीटर दूर है थाना व सीआरपीएफ कैंप, जानिए क्या है वजह

इस कार्रवाई से झोलाछापों में हडक़ंप
जिले में वैसे तो कई झोलाछाप डॉक्टर मरीजों की जान जोखिम में डालकर अपनी रोटी सेंक रहे हैं। जिला प्रशासन की इस कार्रवाई से कहीं न कहीं इस तरह से इलाज करने वाले झोलाछापों में हडक़ंप मच गया हैं कि, अब उनके दुकानदारी पर प्रशासन दबिश देकर उनका फ लफ ुल रहा कारोबार खत्म कर दे।

Read More: दंतेवाड़ा जिले में चल रहे उपचुनाव में पीठासीन अधिकारी की ड्यूटी के दौरान अचानक ऐसे हुई मौत

टीम बनाकर कार्रवाई की जाएगी
एसडीएम पवन कुमार प्रेमी ने बताया कि, शिकायत मिलने के बाद नियमानुसार कार्रवाई की गई हैं, लच्छुराम चक्रधारी अपने को इलाके में डॉक्टर बताते हुए नर्सिंग होम का संचालन कर रहा हैं। इसके साथ ही अन्य ऐसे डॉक्टरों पर जल्द ही टीम बनाकर कार्रवाई की जाएगी।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned