जमीन विवाद को लेकर इस तरह की गई निर्मम हत्या में चार आरोपियों को मिला आजीवन कारावास

आज से लगभग 15 महीने पहले की गई थी हत्या

By: Badal Dewangan

Published: 03 Dec 2019, 04:17 PM IST

जगदलपुर. जमीन विवाद में हत्या करने वाले चार लोगों को न्यायालय ने आजीवन कारावास की सजा सुनाई है। दरभा ब्लॉक के ग्राम झीरम निवासी गंगाराम मरकाम को १७ अगस्त २०१८ की शाम ५-६ बजे के बीच अपराधियों ने उसे घर से बाहर निकालकर खेत की ओर ले गए। वहीं खेत में चारो अपराधियों ने बारी-बारी से धारदार टंगिया से मार कर उसकी हत्या कर दिए।

मीन विवाद के चलते गंगाराम मरकाम की हत्या
मिली जानकारी के अनुसार ग्राम झीरम डोरापारा निवासी हूंगा पिता बुदरा कवासी (३३ वर्ष), सोनू पिता डोरा कवासी (३४ वर्ष), बुदरा पिता स्व. वारे कवासी (५५ वर्ष) और झोलू पिता पायका कवासी (२८ वर्ष) ने जमीन विवाद के चलते गंगाराम मरकाम की हत्या कर दिए। घटना दिनांक के शाम ५ से ६ बजे के बीच आरोपी गंगाराम के घर के सामने पहुंचे और उसका बाहर बुलाया।

लगातार टंगिया से मारते रहे
गंगाराम जैसे ही बाहर आया तो आरोपी उससे विवाद करने लगे। इसके बाद चारो अपराधी गंगाराम को जबरदस्ती पकडक़र घसीटते हुए घर के पीछे सिलकझोडी नाला की तरफ ले गए। गंगाराम को ले जाते देख उसकी पत्नी पोज्जे, बेटा सुखराम बचाने के लिए दौड़े। इस दौरान अपराधियों ने उन्हें भी जान से मारने की धमकी दिए। ऐसे में डरे सहमे पत्नी और बेटे झाडिय़ों में छुपकर घटना देख रहे थे। चारो आदमी गंगाराम को लगातार टंगिया से मारते रहे, जिससे उसकी मौत हो गई। इसके बाद शव को सिलकझोडी नाला से खींचते हुए झीरम नाला के बहते पानी में फेंक दिए।

आजीवन कारावास और एक हजार रुपाए अर्थदंड
इसके बाद मृतक की पत्नी ने इस घटना की रिपोर्ट दरभा थाना में की। इस मामले पर पुलिस ने कार्रवाई कर अपराधियों को न्यायालय में पेश किया। यहां पर न्यायालय ने चारो अपराधियों को आजीवन कारावास और एक हजार रुपाए अर्थदंड व एक वर्ष सश्रम करावास एवं एक हजार रुपए अर्थदंड दिया। मामले की सुनवाई द्वितीय अपर सत्र न्यायाधीश सतीश कुमार जायसवाल और पैरवी लोक अभियोजक अखिलेश्वर ने किया।

Badal Dewangan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned