इस जिले में आवारा पशुओं पर भी पड़ा लाॅकडाउन का व्यापक असर, खाने नहीं मिल रहा चारा

चारा-पानी की कमी को देखते हुए आवारा पशुओं को पकडकर रखा जा रहा है गोठान में

By: Badal Dewangan

Updated: 31 Mar 2020, 05:58 PM IST

सुकमा. कोरोना वायरस कोविड19 पूरे विश्व में हाहाकर मचाकर रख दिया है और पूरा देश घर में लॉक डाउन हो चुका है अब इसका असर मनुष्य के साथ-साथ शहर के पालतु पशुओं पर पड रहा है। इन्हें भी लॉकडाउन किया जा रहा है। बताया गया कि शहर में बंद होने कारण जो आवारा पशुओं शहर के अंदर घुमकर चरते थे, उन्हें इन दिनों चारा-पानी की कमी हो रही है जिसके कारण ऐसे पशुओं को पकडकर गौठान में रखा जा रहा है। जहां इन पशुओं के लिए पर्याप्त चारा पानी की व्यवस्था की गई है सोमवार कों पशु चिकित्सा विभाग और सुकमा नगरीय निकाय के अधिकारी.कर्मचारियों का दल दोपहर में सडक पर पशुओं को पडकने के लिए निकला।

इन दिनों पशुओ को चारा.पानी की कमी होते दिखने को मिल रही है
नगरीय निकाय क्षेत्र में सडकों में घुमकर चारा चरने वाले ऐसे पालतु पशु गाय.बैल को पकडने की कार्यवाही की गई। शहर के मुख्य सडक के आस.पास जितने पालतु पशु चारा चरते हुए मिले। ऐसे पशुओं को काउ कैचर में पकडकर गोठान में ले जाया गया। अधिकारियों ने बताया कि कोरोना वायरस के कारण इन दिनों चारों बंद हैए ऐसे में शहर के अंदर घुमकर ऐसे आवारा पशु अपना पेट भरते हैए बंद के कारण इन दिनों पशुओ को चारा.पानी की कमी होते दिखने को मिल रही है। ऐसे पशुओं को पकडकर गोठान ले जाया रहा है। जहां उनके लिए चारा.पानी की व्यवस्था किया गया है। नगरीय निकाय अधिकारी ने बताया कि इस संबंध में पशु पालकों को पहले ही मुनादी कर सूचना दी गई थी। इन पशुओं को सुकमा से 8 किमी दुर रामपुराम गौठान में रखा जा रहा है।

रामपुरम गोठान में रखने की व्यवस्था की गई
उप संचालक डॉ जहीरउद्दीन खान ने बताया कि कोरोना वायरस के प्रकोप को देखते हुए। ऐसे आवारा पशु जो शहर के अंदर घुमकर चारा चरते व लोगों के भरोसे पेट भरता था। लॉक डाउन के चलते ऐसे पशुओं को शहर के अंदर चारा.पानी की कमी हो रही है। इसलिए इन्हें पकडकर रामपुरम गोठान में रखा जा रहा है। इन पशुओं के लिए यहां पर पर्याप्त मात्रा में चारा.पानी की व्यवस्था किया गया है। सभी पशुओं को कोरोना वायरस खत्म होने के बाद छोड़ा दिया जाऐगा।

Corona virus corona virus in india Corona Virus treatment
Show More
Badal Dewangan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned