मेडिकल कॉलेज में कोरोना संदिग्ध की मौत, के बाद आईसीयू सील, फिर इस वजह से मेकाज प्रबंधन ने ली राहत की सांस

मेडिकल कॉलेज में रविवार रात एक संदिग्ध मरीज की इलाज के दौरान मौत हो गई। मरीज की ट्रैवल हिस्ट्री के साथ उसमें कोरोना के लक्षण भी थे।

By: Badal Dewangan

Published: 09 Jun 2020, 10:28 AM IST

जगदलपुर. मेडिकल कॉलेज में रविवार रात एक संदिग्ध मरीज की इलाज के दौरान मौत हो गई। मरीज की ट्रैवल हिस्ट्री के साथ उसमें कोरोना के लक्षण भी थे। ऐसे में मरीज की मौत के बाद सुरक्षा व्यवस्था को लेकर आईसीयू को सील कर दिया गया है। वहीं आईसीयू में मौजूद डॉक्टर, स्टाफ नर्स और अन्य कर्मचारियों को वहीं पर आइसोलेट कर दिया गया। वहीं देर शाम मृतक युवक की आरटीपीसीआर जांच रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद मेडिकल कॉलेज प्रबंधक और डॉक्टरों ने राहत की सांस ली। इसके बाद आईसीयू में मौजूद डॉक्टर और स्टाफ को छोड़ा गया।

मरीज में कोरोना के लक्षण होने की वजह से आईसीयू सील
जानकारी के अनुसार कुछ दिनों पहले 45 वषी्रय जगदलपुर निवासी एक व्यक्ति रायपुर से लौटा था। उसे पेट में दर्द, सांस लेने में तकलीफ के साथ पाचन क्रिया की समस्या थी। इससे मरीज की हालत काफी बिगड़ गई थी। वहीं इलाज के लिए मरीज को गंभीर हालात में आईसीयू में भर्ती किया गया। जिसकी रविवार रात इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। मरीज में कोरोना के लक्षण होने की वजह से आईसीयू को सील कर दिया गया। सोमवार देर शाम तक मृत व्यक्ति की रिपोर्ट निगेटिव आई। इसके बाद कर्मचारियों ने राहत की सांस ली।

मेडिकल कॉलेज में कोरोना के पांच नए मरीज भर्ती
मेडिकल कॉलेज में सोमवार को कोरोना के पांच नए मरीज पहुंचे। ये सभी मरीज कांकेर जिले के हैं। जिसे मेडिकल कॉलेज के आईसोलेशन वार्ड में भर्ती कर इलाज किया जा रहा है। वहीं मेडिकल कॉलेज में पहले से पांच मरीज भर्ती हैं। जिसमें एक बस्तर जिले से है और चार कांकेर जिले के। मेकाज के डॉक्टरों ने बताया यहां पर भर्ती सभी कोरोना मरीजों की स्थिति ठीक है। गाइड लाइन के अनुसार मरीजों का उपचार किया जा रहा है।

Show More
Badal Dewangan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned