इस रहस्यमयी तालाब में हो चुकी है एक दर्जन से अधिक मौतें, फिर एक नाबालिग को लिया चपेट में

इस रहस्यमयी तालाब में हो चुकी है एक दर्जन से अधिक मौतें, फिर एक नाबालिग को लिया चपेट में

Badal Dewangan | Updated: 14 Jul 2019, 09:43:07 AM (IST) Jagdalpur, Jagdalpur, Chhattisgarh, India

अपने दोस्तों के साथ तालाब में नहाने गया दसवीं के बालक की डूबने से मौत हो गई, जिसे ३ घंटे की मशक्कत के बाद निकाला गया।

 

केशकाल. दोस्तों के साथ तालाब में नहाने गए दसवीं कक्षा की छात्र का डूबने से मौत हो गई गोताखोरों द्वारा 3 घंटे का कड़ी मशक्कत के बाद शव को तालाब से निकाला। पूरा घटना केशकाल थाना क्षेत्र के ग्राम जाम गांव का है जहां इससे पहले कई घटनाएं हो चुकी है।

Read More : देश की सबसे महंगी इस सब्जी से बन रही हार्ट और ब्लड प्रेशर के मरीजों के लिए दवा

3 घंटे की कड़ी मशक्कत करने के बाद शव बरामद किया
केशकाल डीहीपारा निवासी देवेंद्र कश्यप कक्षा दसवीं का छात्र दोपहर 1 बजे आसपास चार दोस्तों के साथ जामगांव के तालाब में नहाने गया था। इसी बीच देवेंद्र कश्यप गहराई में चला गया और डूबने लगा जिसे उसके दोस्त बचाने का प्रयास किया लेकिन गहराई अधिक होने के कारण उसके दोस्त भी पास नहीं पहुंच पाए तालाब के पास के मार्ग में चलने वाले कुछ लोगों को भी आवाज दिया गया लेकिन वे लोग भी बचाने असफल रहे। घटना की जानकारी लगने के बाद तत्काल केशकाल पुलिस भी मौके पर पहुंची जहाँ पुलिस गोताखोर सिपाही और ग्रामीणों की मदद से तलाब में शव को ढूंढने लगे। लगभग 3 घंटे की कड़ी मशक्कत करने के बाद शव को बरामद किया गया । शाम होने के कारण शव का पंचनामा उपरान्त केशकाल हॉस्पिटल में रखा गया है पोस्टमार्टम के बाद शव को परिजनों को सौंप दिया जाएगा।

Read More : पढि़ए एक ऐसी नर्स की कहानी जो सिर्फ बच्चों की एक मुस्कान के लिए 19 साल से नदी नालों को पैदल पार कर दे रही अपनी सेवा

हर साल किसी न किसी के डूबने से होती है मौत
जामगांव के ग्रामीणों ने बताया कि हर साल किसी ना किसी व्यक्ति का इस तालाब में डूबने से मौत होता है तालाब के कई हिस्से ऊपर नीचे होने के कारण अक्सर लोग गहराई में चले जाते हैं और बाहर निकल नहीं पाते जिसके कारण लोगों की डूब जाने से मौत हो जाती है। ग्रामीणों के द्वारा कई बार शासन-प्रशासन को भी अवगत कराया गया है, लेकिन अब तक इस तालाब का किसी भी प्रकार का मरम्मत कार्य नहीं किया गया । इस गोताखोर में टीम में आरक्षक नारद यदु, ग्रामीण नंद सूर्यवंशी, विशेश्वर नेगी, खेदूराम निषाद, लोकेश ध्रुव के द्वारा उक्त शव को निकाला गया।

Chhattisgarh से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter और Instagram पर ..

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned