आक्रोश में लडकियों ने रखे अपने तीखें सवाल, सुन आप भी सोच में पड़ जाएगें

आक्रोश में लडकियों ने रखे अपने तीखें सवाल, सुन आप भी सोच में पड़ जाएगें

Badal Dewangan | Publish: Apr, 17 2018 10:35:07 AM (IST) Jagdalpur, Chhattisgarh, India

हमेशा लड़कियों के साथ हुए दुष्कर्म पर उनके चरित्र, कपड़े, चाल-चलन पर उंगलियां उठाई जाती थी, पर उन्नाव में हुए दुष्क र्म में उस बच्ची का क्या दोष था

जगदलपुर . उन्नाव में बच्ची के साथ हुए दुष्क र्म पर पूरे देश में आक्र ोश देखा जा रहा है। यही गुस्सा व आक्रोश सोमवार को शासकीय नर्सिंग कॉलेज को देखने को मिला। छात्राओं का कहना था कि हमेशा लड़कियों के साथ हुए दुष्क र्म पर उनके चरित्र, कपड़े, चाल-चलन पर उंगलियां उठाई जाती थी, पर उन्नाव में हुए दुष्क र्म में उस बच्ची का क्या दोष था।

बेटियों को दोस्त बनाकर उन पर भरोसा करना होगा
छात्राओं का कहना है कि लड़कियों के साथ हो रहे दुष्क र्म को रोकने के लिए पालकों को आगे आना होगा। अपनी बेटियों को दोस्त बनाकर उन पर भरोसा करना होगा तभी लड़कियों के साथ हो रहे दुष्कर्म को रोका जा सकता है। जिस तरह पालक अपनी घर की बेटियों से पुछते है कि कहा जा रही हो किसके साथ जा रही हो कब तक आओगी।

लड़को से भी पुछा जाना चाहिए की वह कहा जा रहे है
इस प्रकार लड़को से भी पुछा जाना चाहिए की वह कहा जा रहे है कब तक आएंगे व किसी दूसरे कि बहन बेटियों को देख कर किसी भी प्रकार की टिप्पणी तो नहीं करते। जिस दिन पालक अपने बेटो से आगे रहकर सख्ती से यह सब पुछने लगेंगे उस दिन से लड़के किसी भी लड़की को देख कर छेडऩे व दुष्कर्म करने से पहले हजार बार सोचेंगे। इस दौरान छात्राओं ने कहा कि अब वक्त आगया है कि लड़कियां बिना किसी डर के उनके साथ हो रहे दुष्क र्म के बारे में अपने पालको से बताना शुरू करे।

ये भी पढ़े
24 अप्रैल को विशेष ग्राम सभा का आयोजन
जगदलपुर . कमिश्नर दिलीप वासनीकर ने 14 अप्रैल से 5 मई तक ग्राम स्वराज अभियान के आयोजन संबंध में संभाग के सभी जिलों के कलेक्टरों को जरुरी दिशा निर्देश दिए हैं। कमिश्रर ने कहा है कि भारत सरकार पंचायती राज मंत्रालय ने ग्राम स्वराज अभियान मनाने का निर्णय लिया है। इसमें 24 अप्रैल को राष्ट्रीय पंचायत दिवस का आयोजन किया जाना है। प्रधानमंत्री इस अवसर पर सभी ग्रामसभा को सम्बोधित करेंगे।
21 अप्रैल से विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए जाएंं। इसका समापन 24 को होगा। इयमें कमजोर वर्गों का कल्याण, जेण्डर समानता, टीकाकरण, स्वास्थ्य, कुपोषण, जल संवर्धन व ग्राम का सामाजिक एवं आर्थिक विकास शामिल हैं। इस दिन प्रभातफेरी, स्वच्छता, सांस्कृतिक , खेलकूद, ग्रामसभा में चर्चा होगी।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned