scriptThe sword of expulsion again hangs on 350 employees of Jagdalpur Medic | मेकाज के 350 कर्मियों पर फिर लटकी निष्कासन की तलवार | Patrika News

मेकाज के 350 कर्मियों पर फिर लटकी निष्कासन की तलवार

जगदलपुर . संभाग के इकलौते मेडिकल कॉलेज में स्वास्थ्य सेवाएं फिर से प्रभावित हो सकती है। क्योंकि कोरोनाकाल के दौरान डीएमएफ से नियुक्त करीब 350 कर्मचारियों को प्रबंधन ने 1 जून से अस्पताल में सेवा करने से मना कर दिया गया है। अब जितने भी नियमित कर्मचारी यहां काम कर रहे है, उनसे ही सेवा लिए जाने की बात सामने आ रही है, लेकिन अचानक इन 350 कर्मचारियों के हटते ही अस्पताल की व्यवस्था जरूर चरमराने लगेगी।

जगदलपुर

Published: May 30, 2022 09:02:02 pm

जानकारी में बताया जा रहा है कि जिला खनिज न्यास मद के द्वारा करीब 2 वर्ष पहले स्टाफ नर्स से लेकर वार्ड बॉय, ट्रेसर, टेक्नीशियन के अलावा अन्य पदों की भर्ती किया गया था, जिसमें यह लोग अपनी सेवा दे रहे थे। कोरोना के दौरान नर्स व अन्य स्टाफ ने अपनी जान की परवाह किये बिना लगातार काम किया था। कोविड के समाप्त होते ही धीरे धीरे इन स्टाफ को हटाने की बात सामने आने लगी। विरोध होने पर इन्हें हटाए जाने का समय 2 माह तक टाल दिया गया। वही काम के दौरान इन स्टाफ नर्स को साइन भी करने से मना कर दिया गया था। जहाँ बाद में अधिकारियों के दखलंदाजी के बाद फिर से इन्हें काम पर भी रखा गया, कुछ दिनों तक सही होने के बाद फिर से उन्हें हटाने का आदेश भी आया, जहां कुछ ने ज्वाइन किया, कुछ ने आने से मना कर दिया। वही काम के बीच बीच मे डीएमएफटी के कर्मचारियों को हर 2 माह में आने से मना कर दिया जाता है।
unemployment tragedy
डीएमएफटी मद से कार्य कर रहे कर्मियों को एक जून से काम करने से होगी मनाही
  • सूत्रों से इस बात की भी जानकारी मिली कि अधीक्षक ने डीएमएफ कर्मियों को सूचित किया है कि प्रशासन ने दो माह की जो मियाद दी थी वह इस माह पूरी हो रही है। डीएमएफ से स्थाई रूप से वेतन देने प्रशासन ने हाथ खड़े कर दिए हैं। इसलिए 1 जून से उनकी सेवाएं नियमित नहीं रह पाएँगी।
  • डीएमएफ वेतनभोगी कर्मचारियों ने बताया 2 दिसंबर 2021 को इन कर्मचारियों ने अपनी मांगों को लेकर अस्पताल के बाहर 20 दिनों तक हड़ताल की थी। जिसके बाद अधीक्षक ने वापस उन्हें काम पर बुला लिया था। फिर कुछ दिनों बाद उन्हें हटाने का आदेश जारी कर दिया गया।
  • मेकॉज में प्राध्यापकों सहित तृतीय एवं चतुर्थ वर्ग के कर्मियों के कई पद रिक्त हैं हालांकि इनमें से कुछ पद कनिष्ठ चयन बोर्ड के द्वारा भरे जा रहे हैं। पिछले दिनों जब डीएमएफ कर्मियों को हटाने का प्रयास हुआ था तो नेताओं के हस्तक्षेप से उन्हें राहत मिली थी। अब फिर नेताओं पर नजर टिकी है।
सेवाएं नहीं होंगी प्रभावित
मेडिकल कालेज मे स्वास्थ्य सेवाएं बदस्तूर जारी रहेंगी। कनिष्ठ सेवा चयन बोर्ड के जरिए इन रिक्त पदों पर नियमित भर्ती की जा रही है। डीएमएफ से स्थाई व्यवस्था नहीं की जा सकती है। यदि जरूरी हुआ तो उन्हें फिर से काम में लिया जाएगा।
- रजत बंसल, कलेक्टर

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

मनीष सिसोदिया के घर समेत 31 जगहों पर रेड, 17 अगस्त को ही दर्ज हुई थी FIR, CBI ने जारी की पूरी डीटेलउपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के आवास पर CBI की छापेमारी के बाद आम आदमी पार्टी ने किया ऐलान - '2024 में मोदी Vs केजरीवाल'Kerala News: मुस्लिम लीग के महासचिव का विवादित बयान, बोले- 'लड़के-लड़कियों का स्कूल में साथ बैठना खतरनाक'CBI Raids Manish Sisodia House Live Updates: बीजेपी की बौखलाहट ने देश को ये संदेश दिया है कि 2024 का चुनाव AAP v/s BJP होगा- संजय सिंहबंगाल, महाराष्ट्र में भी ED के छापे, उनके सामने तो मैं तिनका हूँ, 'सांसद अफजाल अंसारी ने दी चुनौती- पूर्वांचल हमारा ही रहेगा'Mumbai News: दही हांड़ी फोड़ने पर 55 लाख से लेकर स्पेन जाने सहित मिल रहे हैं ये खास ऑफर; पढ़े पूरी खबरबिहार में सूखे का जायजा लेने निकले थे मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, गया में हेलीकॉप्टर की करवानी पड़ी इमरजेंसी लैंडिंगबिहार में सूखे का जायजा लेने निकले थे मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, गया में हेलीकॉप्टर की करवानी पड़ी इमरजेंसी लैंडिंग
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.