अगर आप भी बस्तर विश्वविद्यालय के अंतर्गत देते हैं परीक्षा, रहे सावधान, यहां उत्तरपुस्तिकाओं का होता है ये हाल

एबीवीपी ने लगाया भ्रष्टाचार का आरोप : प्रभारी कुलसचिव को हटाने की मांग जांच किए बिना कर दिया फेल, एबीवीपी ने किया विवि का घेराव

By: Badal Dewangan

Updated: 24 Jul 2018, 03:44 PM IST

जगदलपुर. बस्तर विश्व विद्यालय में अजीबोगरीब मामला सामने आया है। यहां के विद्यार्थी की बिना आंसरशीट चेक किए ही उसे फेल कर दिया है। इस बात से नाराज एबीवीपी के कार्यकर्ताओं ने सोमवार को विश्वविद्यालय का घेराव कर प्रबंधन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। साथ ही उन्होंने कुलसचिव पर भ्रष्टाचार करने का आरोप लगाते हुए उन्हें हटाने के लिए 10 दिन का समय प्रबंधन को दिया है यदि उन्हें नहीं हटाया जाएगा तो बड़े आंदोलन की चेतावनी दी है।

एबीवीपी के छात्रों ने बताया कि इसकी शिकायत को लेकर एबीवीपी के छात्रों ने पीडि़त फेल छात्रों के साथ कुलसचिव से मुलाकात की थी । लेकिन किसी तरह का नतीजा नही निकलता देख आज छात्रों ने कुलसचिव को हटाने की लिए विश्वविघालय परिसर मे जमकर नारेबाजी की। प्रर्दशन कर रहे छात्रों का कहना है कि विश्वविघालय प्रबंधन इस तरह की लापरवाही बरत कर छात्रों के भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रहा है।

प्रबंधन ने छात्रों की उत्तरपुस्तिकाओ को बिना जांचे ही उसे नीलामी के लिए कचरे के ढेर में दे दिया
आलम यह है कि प्रबंधन ने छात्रों की उत्तरपुस्तिकाओ को बिना जांचे ही उसे नीलामी के लिए कचरे के ढेर में दे दिया।इस दौरान यहां राष्ट्रीय मंत्री भूपेंद्र नाग, प्रदेश सह सचिव पुशांत रॉय, संयोजक राम प्रसाद मौर्य, अनिमेष रॉय, भूपेंद्र निर्मलकर, मयंक नत्थानी, फूलचंद गागडा, शिवम अवस्थी, अर्पित मिश्रा, विष्णु गुप्ता, अनिमेष सिंह चौहान, काजल शांडिल्य, निषि हालदार, प्रतिज्ञा बाजपेयी, सेजल साव, प्रशांत आचार्य, वैभव पांडे, प्रशांत पाणिग्राही, आलेख राज तिवारी, प्राचीन तिवारी, विशाल पांडे समेत अन्य लोग मौजूद रहे।

हटाएं नहीं तो साक्ष्य को करा सकते हैं प्रभावित
छात्रों का कहना है कि यह पूरा मामला भ्रष्टाचार से जुड़ा हुआ है और इसमें सीधे तौर पर प्रभारी कुलसचिव एआर चौरे दोषी हैं। इसलिए उन्हें पद से हटा देना चाहिए। यदि उन्हें नहीं हटाया जाता तो वे सबूतों के साथ छेड़छाड़ कर सकते हैं।

Show More
Badal Dewangan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned