जानिए क्यों अभी तक तप रहा है आपका बस्तर, क्या वजह है अभी तक नहीं पहुंचा मानसून

जानिए क्यों अभी तक तप रहा है आपका बस्तर, क्या वजह है अभी तक नहीं पहुंचा मानसून

Badal Dewangan | Publish: Jun, 16 2019 01:03:21 PM (IST) Jagdalpur, Jagdalpur, Chhattisgarh, India

15 से 17 जून के बीच मानसून के बस्तर पहुंचने का अनुमान लगाया जा रहा था लेकिन मौसम विभाग ने इसमें अभी समय लगने की बात कही है।

जगदलपुर. 15 से 17 जून के बीच मानसून (wether) के बस्तर पहुंचने का अनुमान लगाया जा रहा था लेकिन मौसम (wether) विभाग ने इसमें अभी समय लगने की बात कही है। मौसम (wether) विज्ञान केंद्र रायपुर के वैज्ञानिक एचपी चंद्रा ने बताया कि वायु चक्रवात की वजह से केरल से चले मानसून (wether) को आगे बढऩे में कठिनाई हो रही है। वायु की वजह से चल रही तेज हवाएं उसे तमिलनाडू से आंध्र की तरफ बढऩे से रोक रही हैं। बस्तर में मानसून का आगमन दक्षिण यानी सीमांध्र की तरफ से ही होता है। फिलहाल मानसून तमिलनाडू के मदुरई में है। उसे यहां पहुंचने में 20 से 22 जून तक का वक्त लग सकता है। मानसून पहले ही केरल पहुंचने में आठ दिन लेट हो गया था, ऐसे में उसके 15 से 17 जून तक बस्तर पहुंचने की संभावना थी।

पारा फिर पहुंचा 40 के करीब, गर्मी से लोग बेहाल
जगदलपुर शहर का तापमान Tempreture आमतौर पर जून के महीने में कम होता है लेकिन इस साल मानसून की देरी की वजह से पारा कम ही नहीं हो रहा है। मौसम (wether) विज्ञान केंद्र के अनुसार शनिवार को अधिकतम तापमान 39.1 डिग्री रहा। वहीं रात का तापमान भी 27.6 डिग्री पर पहुंच गया। गर्मी से लोग बेहाल हैं। जून के महीने में बारिश की उम्मीद करने वाले शहरवासी सिर्फ मानसून के जल्द आने का इंतजार कर रहे हैं। बारिश नहीं होने की वजह से शहर में पेयजल की समस्या भी बढ़ रही है। कई वार्डों में टैंकर ही पानी सप्लाई का जरिया बने हुए हैं।

4 दिन में बंगाल की खाड़ी में कम दबाव का क्षेत्र संभव
मौसम (wether) विभाग के अनुसार आने वाले 4 से 5 दिनों के भीतर बंगाल की खाड़ी में कम दबाव का क्षेत्र बनने की संभावना है। इससे मानसून की गति बढ़ेगी। बावजूद इसके मानसून को बस्तर पहुंचने में 20 तारीख तक का वक्त लग ही जाएगा। हालांकि इस बीच अगर मौसम (wether) मानसून के अनुकूल हो गया तो मानसून तेजी से भी आगे बढ़ सकता है लेकिन फिलहाल ऐसे आसार कम ही हैं।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned