राजस्थान में कोरोना वायरस ने तोड़ डाले अब तक के सारे रिकॉर्ड

राजस्थान में रविवार को अब तक का सबसे बड़ा कोरोना धमाका हुआ। एक दिन में रिकॉर्ड 632 नए मामले सामने आने से लोग डर गए।

By: santosh

Updated: 06 Jul 2020, 02:56 PM IST

जयपुर। राजस्थान में रविवार को अब तक का सबसे बड़ा कोरोना धमाका हुआ। एक दिन में रिकॉर्ड 632 नए मामले सामने आने से लोग डर गए। इससे पहले शनिवार को भी रिकॉर्ड 480 नए मरीज मिले थे। प्रदेश में पहले 10 हजार मरीज 94 दिन में मिले लेकिन अब मात्र 30 दिन में संख्या 20 हजार के पार हो गई।

दो दिन में मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ने का असर यह रहा कि 5 हजार मरीज मिलने की अवधि घटकर 17 से 13 दिन रह गई है। दस से 15 हजार मरीज तक पहुंचने में 17 दिन का समय लगा था जबकि अब 15 से 20 हजार मरीजों तक पहुंचने में मात्र 13 दिन का समय लगा है।

प्रदेश में 3 मार्च को पहला कोविड विदेशी नागरिक पॉजिटिव मिलने के बाद पहले 10 हजार मरीज सामने आने में तीन महीने से अधिक 94 दिन का समय लगा था। जबकि इसके बाद 10 से 20 हजार मरीज मिलने में मात्र 30 दिन का समय लगा है। प्रदेश में जांचों की संख्या अब 9 लाख पार हो गई है।

गौरतलब है कि प्रदेश की जांच क्षमता 40 हजार से अधिक है। जबकि जांचें उसकी तुलना में आधी भी नहीं हो रही हैं। राजस्थान में सोमवार को कोरोना संक्रमण के 99 नए मामले सामने आने के बाद संक्रमितों की संख्या बढ़कर 20 हजार 263 हो गई। वहीं तीन संक्रमितों की मौत होने से मृतकों का आंकड़ा 459 पर पहुंच गया है।

चिकित्सा निदेशालय की ओर से सुबह जारी रिपोर्ट के अनुसार सर्वाधिक 27 नए मामले भरतपुर में आए जबकि अजमेर में एक, अलवर में 12, भीलवाड़ा में एक, दौसा में पांच, चार, भरतपुर में आठ, भीलवाड़ा में तीन, दौसा में पांच, जयपुर में 24, झुंझुनू में आठ, कोटा में नौ, नागौर में एक, पाली में एक, सवाईमाधोपुर में तीन, उदयपुर में तीन और राजसमंद में तीन संक्रमित पाए गए।

आवाजाही बढ़ने, अधिक जांचें होने, प्रवासियों व प्रवासी श्रमिकों की अधिक आवक के कारण मरीज बढ़े हैं।
- डॉ. रमन शर्मा, मेडिसिन रोग विशेषज्ञ, सवाई मानसिंह अस्पताल

coronavirus

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned