जयपुर शहर में गोपालपुरा बायपास स्थित 10 बी स्कीम में बुधवार रात 3 बजे रिटायर्ड बैंक अधिकारी कृष्णकांत गुप्ता के घर डकैती की वारदात हुई। 4 माह पूर्व ही काम पर आई नौकरानी परवीना खातून उर्फ प्रिया साहू और उसके साथियों ने वारदात को अंजाम दिया।

आधे घंटे तक चाकू की नोक पर घर को खंगाला। करीब 12 लाख रुपए के जेवर, चांदी के बर्तन और 2.50 लाख रुपए नकद समेटकर गुप्ता परिवार की कार में रखा, फिर परवीना के साथ भाग गए। वारदात के वक्त घर में कृष्णकांत, उनकी पत्नी चंद्रकांता, 10 माह की पोती नितारा व नौकरानी थी। डकैतों के सामने जान की परवाह नहीं कर दादी चंद्रकांता ने पोती नितारा को अगवा नहीं होने दिया। नौकरानी की मदद से घर में घुसे डकैतों ने सो रहे गुप्ता के हाथ-पैर व मुंह साड़ी व चुन्नी से बांध दिए।

फिर दूसरे कमरे में टैब पर फिल्म देख रहीं पत्नी चन्द्रकांता को चाकू दिखाकर कृष्णकांत के कमरे में ले आए। वहां डकैत उसे भी बंधक बनाने लगे तो चन्द्रकांता ने सूझबूझ दिखाई। डकैतों को कहा कि मेरे हाथ-पैर मत बांधो, मैं नकदी-जेवर बता दंूगी। इस पर डकैतों ने उसे नहीं बांधा। करीब आधे घंटे तक दम्पती को चाकू की नोक पर रखकर डकैतों ने घर खंगाला। जाने से पहले चन्द्रकांता को अलग कमरे में बंद कर गए। कृष्णकांत का बेटा अंकुर और बहू अंकिता मुम्बई में नौकरी करते हैं, दोनों वहीं रहते हैं। उनकी 10 माह की बेटी नितारा दादा-दादी के पास रहती है।

डकैतों ने की गुमराह करने की कोशिश
डकैतों ने नितारा को परवीना के साथ देखा तो गुमराह करने के लिए पूछा, यह उसकी मां है क्या? पर बाद में परवीना सामान समेटकर डकैतों के साथ चली गई। आशंका है कि परवीन बांग्लादेशी है या कोलकाता में उसका ठिकाना है। इसके मद्देनजर पुलिस टीम वहां भेजी गई है। पुलिस जयपुर से बाहर जाने वाले मार्गों पर कृष्णकांत की कार के बारे में भी पता कर रही है।

‘मैं तुझे मार दूंगी, पोती नहीं ले जाने दूंगी’
चंद्रकांता को डकैतों ने अलमारी के ऊपर से चांदी के बर्तन उतारने को टेबल पर चढऩे को कहा। वे बोलीं, मेरे पैर में रॉड लगी है, मैं टेबल पर नहीं चढ़ सकती। इस पर डकैत ने चाकू से मारने की धमकी दी तो उन्होंने कहा कि टेबल से गिरकर मरूंगी, इससे अच्छा है तू ही मार दे। आखिर एक डकैत टेबल पर चढ़ा और सामान उतारने लगा। डकैत सामान बटोरने के बाद डकैत 10 माह की पोती को साथ ले जाने की धमकी देने लगे। उन्होंने कहा, तुम मुझे मार दो नहीं तो मैं तुम्हें मार दंूगी, पोती को तो नहीं ले जाने दंूगी। इस पर डकैत पोती नितारा को छोड़ गए।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned