राजस्थान एपिडेमिक अध्यादेश के तहत 2 लाख 87 हजार चालान

22 हजार 619 व्यक्तियों को शांति भंग के आरोप में किया गिरफ्तार

By: Lalit Tiwari

Updated: 20 Jul 2020, 10:25 PM IST

प्रदेश में वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम के लिए लागू राजस्थान एपिडेमिक अध्यादेश के तहत अब तक 2 लाख 87 हजार से अधिक व्यक्तियों का चालान कर 4 करोड 50 लाख रूपये से अधिक का जुर्माना वसूल किया जा चुका है। सार्वजनिक स्थलों पर मास्क नहीं लगाने पर 1 लाख 24 हजार 565, बिना मास्क पहने लोगों को सामान बेचने पर 9174, निर्धारित सुरक्षित भौतिक दूरी नहीं रखने पर 1 लाख 55 हजार 9 व्यक्तियों के चालान किए गए है। सार्वजनिक स्थलों पर थूकंने वाले, शराब का सेवन करने वाले व्यक्तियों एवं सार्वजनिक स्थलों पर गुटखा-तम्बाकू का सेवन करने वाले व्यक्तियों के खिलाफ कार्यवाही की गयी है।
महानिदेशक पुलिस भूपेन्द्र सिंह ने बताया कि निषेधाज्ञा तथा क्वारंटाईन मापदण्डों का उल्लघंन करने पर 3 हजार 511 एफआईआर दर्ज कर अब तक 7 हजार 335 व्यक्तियों को गिरफ्तार किया गया। निषेधाज्ञा व एमवी एक्ट के तहत 6 लाख 47 हजार 100 वाहनों का चालान एवं 1 लाख 52 हजार 166 वाहनों को जब्त किया गया एवं करीब 11 करोड़ 20 लाख रुपये से अधिक जुर्माना वसूल किया जा चुका है।

शांति भंग में 22 हजार से ज्यादा गिरफ्तार
भूपेन्द्र सिंह ने बताया कि प्रदेश में 22 हजार 619 व्यक्तियों को सीआरपीसी के प्रावधानों के तहत शांति भंग के आरोप में गिरफ्तार किया गया। पुलिस ने सोशल मीडिया के दुरुपयोग के मामलों में अब तक 218 मुकदमे दर्ज कर 300 असामाजिक तत्वों के खिलाफ अभियोग दर्ज किया है एवं 227 को गिरफ्तार किया गया है। लॉक डाउन के दौरान काला बाजारी करते पाये गये दुकानदारों के विरुद्ध आवश्यक वस्तु अधिनियम के तहत 139 मुकदमे दर्ज कर 96 को गिरफ्तार किया गया एवं 42 मामलों में चार्जशीट दाखिल की जा चूकी हैं।

रात 10 से सुबह 5 बजे तक रहेगा कर्फ्यू
पुलिस ने बताया कि रात 10 बजे से प्रातः 5 बजे तक सभी गतिविधियों निषिद्ध है। उन्होंने आमजन से चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी गाइडलाइंस की अनुपालना करने, मास्क पहनने, सोशल डिस्टेंसिग रखने एवं हाथ धोने के प्रति विशेष सतर्कता बरतने का आग्रह किया है।

Show More
Lalit Tiwari Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned