शहरों में 40 तथा गांवों में 15 फीसदी मरीज हाइपरटेंशन के

शहरों में 40 तथा गांवों में 15 फीसदी मरीज हाइपरटेंशन के

Anil Chauchan | Publish: May, 17 2018 08:45:45 PM (IST) Jaipur, Rajasthan, India

शहरों में 40 तथा गांवों में 15 फीसदी मरीज हाइपरटेंशन के...

जयपुर .
एक दूसरे से आगे निकलने की होड़ और तेज रफ्तार की जिंदगी के चलते ज्यादातर लोग अवसाद और तनाव से घिर जाते हैं। यही कारण है कि कब हाइपरटेंशन जकड़ लेता है और मानसिक उलझन, शारीरिक रोग में बदल जाती है, पता ही नहीं चलता। इसका सीधा संबंध हमारे हृदय से है। शहरों में यह रोग 30 से 40 फीसदी में तथा गांवों में 15 फीसदी को है।


कार्डियोलोजिस्ट डॉ. राम चितलांगिया ने बताया कि आनुवंशिक कारण के अलावा खराब लाइफ -स्टाइल और गलत खान-पान भी हाइपरटेंशन का कारण है। इससे हार्ट अटैक से लेकर लिवर डैमेज और आंखों की रोशनी जाने का खतरा होता है। हाइपरटेंशन को साइलेंट किलर भी कहा जाता है, जो बिना लक्षण के ही प्राण घातक होता है, इसमें कुछ लोगों में सिर दर्द, धडकनों का तेज होना, चलते समय सांसों का फूलना, थकान और असहजता देखी जाती है, यह लकवा और हार्ट अटैक का प्रमुख कारण है।


कार्डियोलोजिस्ट डॉ. राहुल शर्मा ने बताया कि उच्च रक्तचाप के कारण हर वर्ष लाखों लोगों की मृत्यु हो जाती है, हृदय शरीर के सभी अंगों को नलिकाओं से रक्त को पहुंचाने का कार्य करता है, रक्त प्रवाह के समय हृदय दबाव पैदा करता है, जो नलिकाओं के अंदरूनी भाग पर पड़ता है, इस दबाव को रक्तचाप कहते हैं।


इसे कहते हैं हाइपरटेंशन -
कार्डियोलोजिस्ट डॉ. अमित गुप्ता ने बताया कि ने बताया कि रक्तचाप शरीर की रक्त संचरण में सहायता करता है, धमनियों में रक्त के दबाव के बढऩे को उच्च रक्तचाप कहते हैं, एक सेहतमंद आदमी के लिए रक्तचाप 120-80 होता है, जब आपका सिस्टोलिक ब्लड प्रेशर या ऊपर का रक्तचाप 140 और डायास्टोलिक ब्लड प्रेशर यानी नीचे का रक्तचाप 90 या इससे ऊपर हो, तो तब उसे उच्च रक्तचाप या हाइपरटेंशन कहते हैं।


60 साल की उम्र की महिलाओं में ज्यादा -
डॉ. सुप्रिय जैन ने बताया कि शोध में यह भी पता चला है कि हाइपरटेंशन की बीमारी शुरुआती उम्र में यह पुरुषों में ज्यादा और 60 साल की उम्र के बाद महिलाओं में ज्यादा होता है, ऐसे तो यह बीमारी किसी भी कारण से हो सकती है, पर जो लोग मोटे हों या शराब अथवा धूम्रपान के आदि हो, किसी कारण अवसाद से ग्रसित हों, फास्ट फूड और मांसाहारी भोजन ज्यादा करते हो उनमें यह ज्यादा देखने को मिलता है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned