script42 cases of fraud registered in Rajasthan, Haryana, Gurgaon, Delhi and | राजस्थान, हरियाणा, गुड़गांव दिल्ली और उ.प्र में धोखाधड़ी के 42 मामले दर्ज, फिर भी चेहरे पर शिकन तक नहीं | Patrika News

राजस्थान, हरियाणा, गुड़गांव दिल्ली और उ.प्र में धोखाधड़ी के 42 मामले दर्ज, फिर भी चेहरे पर शिकन तक नहीं

locationजयपुरPublished: Oct 07, 2022 09:13:22 pm

Submitted by:

Lalit Tiwari

एक दिन पहले ही दिल्ली क्राइम ब्रांच ने पकड़ा था आरोपी

राजस्थान, हरियाणा, गुड़गांव दिल्ली और उ.प्र में धोखाधड़ी के 42 मामले दर्ज, फिर भी चेहरे पर शिकन तक नहीं
राजस्थान, हरियाणा, गुड़गांव दिल्ली और उ.प्र में धोखाधड़ी के 42 मामले दर्ज, फिर भी चेहरे पर शिकन तक नहीं
सिंधी कैंप थाना पुलिस ने ड्राई फ्रूट् खरीदने के नाम पर धोखाधड़ी करने वाले शातिर बदमाश को गिरफ्तार किया हैं। आरोपी अपने साथियों के साथ मिलकर अलग अलग फर्म खोलकर धोखाधड़ी करता था। आरोपी के खिलाफ राजस्थान, हरियाणा, गुड़गांव, दिल्ली व उत्तर प्रदेश में धोखाधड़ी के 42 से ज्यादा प्रकरण दर्ज हैं। पुलिस इस मामले में फरार चल रहे अन्य साथियों के बारे में भी जानकारी जुटा रही हैं।
यह भी पढ़े : कार चलाने वालों के लिए जरूरी खबर, ये नहीं किया तो कटेगा चालान, पढ़ें पूरी खबर

यह था मामला
डीसीपी (पश्चिम) वंदिता राणा ने बताया कि इस संबंध में परिवादी अवि गुप्ता ने थाने में मामला दर्ज करवाया। जिसमें बताया कि आरोपियों ने साजिश रचकर उसकी फर्म उन्नति एंटरप्राइजेज फ्रूट्स से अपनी फर्म श्री श्याम ट्रेडिंग कंपनी में मंगवाकर माल को अन्य फर्मों में बेच दिया और उसके रुपए नहीं लौटाए।
दिल्ली पुलिस ने किया था गिरफ्तार
एडिशनल डीसीपी रामसिंह ने बताया कि आरोपी के बारे में पड़ताल की तो सामने आया कि आरोपी मोहित को अन्य वारदात में क्राइम ब्रांच दिल्ली द्वारा गिरफ्तार किया गया हैं। पुलिस ने गुरूग्राम हरियाणा निवासी आरोपी मोहित कुमार उर्फ मोहित गोयल का प्रोडक्शन वारंट लेकर उसे गिरफ्तार किया। पुलिस आरोपी से पूछताछ कर अन्य जानकारियां जुटा रही हैं।
इस तरह करते थे वारदात-
थानाप्रभारी गुंजन सोनी ने बताया कि आरोपी मोहित कुमार उर्फ मोहित गोयल से पूछताछ में सामने आया कि मोहित अपने अन्य सहयोगी अभियुक्तों के साथ मिलकर अलग अलग प्रोपराइटरशिप तथा डायरेक्टर शिप से फर्मे खोलता था। जिसका अप्रत्यक्ष रुप से संचालन स्वयं ही करता था। माल कहां से लाना है और कहां भेजना है। किससे रुपए लेने है और बाकी कितने रखने है। वह स्वयं ही करता था। मोहित के साथ इन सबमें उसकी पत्नी धारणा के साथ साथ अन्य सहयोगी मनोज कादियान, प्रदीप निर्वाण, राजीव कुमार, अंजली कादियान आदि शामिल है। आरोपी पहले पार्टियों को आर्डर देते, माल की सप्लाई लेते तथा फिर या तो अति अल्प भुगतान करते या कुछ भी भुगतान नहीं करते थे।
इस तरह खोली खुद की फर्म
आरोपी मोहित के पिता की श्यामली उत्तर प्रदेश में किराना की होलसेल की दुकान है। जहां से कमाए हुए कुछ रुपयों को अपने मित्र के साथ मोहित ने इनवेस्ट किया और रिगिंग बैल प्रा. लि. कंपनी खोली जो 2017 में रिगिंग बैल स्कैण्डल में आरोपी फर्म है, इस फर्म द्वारा 251 रुपए में प्रत्येक भारतीय नागरिक को मोबाइल फोन उपलब्ध कराए जाने थे। परन्तु कमंपनी पर धोखाधड़ी के कई आरोप लगे और प्रकरण पंजीबद्ध हुए। इसी क्रम में आरोपी मोहित की मुलाकात मनोज कादियान और उसकी पत्नी अंजली कादियान से हुई। और अपने साथ बाकी दूसरे सहयोगियों को मिलकर इन सभी ने धोखाधड़ी के उदेश्य से अलग अलग पते पर फर्मे बनाई।

सम्बधित खबरे

सबसे लोकप्रिय

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather Update: राजस्थान में बारिश को लेकर मौसम विभाग का आया लेटेस्ट अपडेट, पढ़ें खबरTata Blackbird मचाएगी बाजार में धूम! एडवांस फीचर्स के चलते Creta को मिलेगी बड़ी टक्करजयपुर के करीब गांव में सात दिन से सो भी नहीं पा रहे ग्रामीण, रात भर जागकर दे रहे पहरासातवीं के छात्रों ने चिट्ठी में लिखा अपना दुःख, प्रिंसिपल से कहा लड़कियां class में करती हैं ऐसी हरकतेंनए रंग में पेश हुई Maruti की ये 28Km माइलेज़ देने वाली SUV, अगले महीने भारत में होगी लॉन्चGanesh Chaturthi 2022: गणेश चतुर्थी पर गणपति जी की मूर्ति स्थापना का सबसे शुभ मुहूर्त यहां देखेंJaipur में सनकी आशिक ने कर दी बड़ी वारदात, लड़की थाने पहुंची और सुनाई हैरान करने वाली कहानीOptical Illusion: उल्लुओं के बीच में छुपी है एक बिल्ली, आपकी नजर है तेज तो 20 सेकंड में ढूंढकर दिखाये
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.