माता-पिता की पहचान को जुटे 450 कर्मचारी

माता-पिता की पहचान को जुटे 450 कर्मचारी

neha soni | Publish: Mar, 01 2019 05:01:40 PM (IST) Jaipur, Jaipur, Rajasthan, India

सामने आई बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ अभियान में देश में प्रशंसा बटोर चुके झुंझुनूं जिले की कड़वी सच्चाई

जंगल में नवजात मिलने का मामला

जयपुर / झुंझुनूं
बंको के जोहड की गूण में मिली नवजात के स्वास्थ्य में अभी सुधार नहीं हुआ है। उसे सांस लेने में तकलीफ है। अस्पताल में उसे कृत्रिम सांस दिया जा रहा है।
इधर, प्रशासन ने नवजात के माता-पिता की तलाश में 450 कर्मचारियों को लगा रखा है। इनमें पुलिस व प्रशासनिक कर्मचारी शामिल हैं। गुरुवार को कुछ सुराग टीम को लगे हैं। उधर, सीकर के लक्ष्मणगढ़ इलाके में चार दिन पूर्व मिली नवजात बालिका अंजली का जयपुर में इलाज चल रहा है। उसे सांस लेने में तकलीफ बताई जा रही है। मलसीसर में बालिका का जन्म सरकारी नर्सिंगकर्मी ने ही मलसीसर में किराए के घर में करवाया था। 450 कर्मचारियों ने मलसीसर में गुरुवार सुबह आठ हजार घरों की सघन जांच कर पूछताछ शुरू की। जिस महिला नर्सिंगकर्मी पर शक किया जा रहा है। वह गायब हो गई है। प्रारंभिक जांच में यह भी सामने आया कि महिला नर्सिंगकर्मी ने अवैध रूप से प्रसव कराने के लिए किराए का कमरा ले रखा है। इसके एवज में वह पांच से 50 हजार रुपए तक वसूलती है। पुलिस ने मामला दर्ज किया है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned