शहर में उतरेंगे 500 और अधिकृत फल-सब्जी विक्रेता

- अभी 990 फल-सब्जी ठेला संचालकों को दिए गए हैं पास

 

By: Ankit

Updated: 24 May 2020, 06:40 PM IST


जयपुर। शहर में फल-सब्जी विक्रेताओं के लगातार कोरोना पॉजिटिव आने व शहर में सब्जियों की सप्लाई भी सुचारू रहे, इसे देखते हुए जिला प्रशासन व नगर निगम ने 500 फल-सब्जी ठेला संचालकों को और अधिकृत पास देने का निर्णय किया है। वर्तमान में शहर में 990 पास धारक सभी 91 वार्डों में फल-सब्जी के ठेले लगा रहे हैं। शहर व आबादी की तुलना में इनकी संख्या कम होने के कारण ठेलों को बढ़ाने का निर्णय लिया गया है। नगर निगम अब सभी जोन उपायुक्तों से उनके क्षेत्र में जरुरत की सूची लेगा। उसी के अनुसार फल-सब्जी ठेला संचालकों और लगाए जाएंगे। इसके बाद शहर में 1500 फल-सब्जी ठेला संचालक होंगे। इसमें स्थाई दुकानें शामिल नहीं हैं। वे पहले की तरह चलती रहेंगी।

वर्तमान स्थिति : गैर पास धारी ठेले वाले आ रहे, कई इलाकों में सप्लाई ही नहीं
जिला प्रशासन और निगम की ओर से जिन फल-सब्जी विक्रेताओं को अधिकृत किया है, वे कॉलोनियों में दिखाई नहीं दे रहे और बड़ी संख्या में अनाधिकृत फल-सब्जी ठेला वाले कॉलोनियों में घूम रहे हैं। वहीं, कई इलाकों में ठेले वालों के नहीं आने से फस-सब्जियों की सप्लाई हो ही नहीं रही है।

दरअसल, जिला प्रशासन और नगर निगम ने करीब एक सप्ताह पहले 990 फल-सब्जी ठेला संचालकों को पास जारी किए थे। शहर के सभी 91 वार्डों में इन्हें ही फल-सब्जी बेचने के लिए अधिकृत किया गया था। प्रशासन की ओर से कहा गया था कि टोपी, दस्ताने, मास्क और सेनेटाइजर के दिए गए थे। लेकिन शहर के ज्यादातर हिस्से में टोपी पहने एक भी ठेला संचालक किसी कॉलोनी में दिखाई नहीं दे रहे हैं।
नगर निगम के स्वास्थ्य उपायुक्त देवेंद्र जैन ने बताया कि कमी की शिकायतों के कारण ही जिला कलक्टर को फल-सब्जी विक्रेताओं की संख्या बढ़ाने का प्रस्ताव दिया गया था। उन्होंने 500 के लिए अनुमति दे दी है।

Ankit Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned