चीन में 55 हजार हिंदुस्तानी फंसे, जापान में एक और भारतीय को संक्रमण

कोरोना वायरस: ओसीआइ कार्डधारकों के लिए दिशा-निर्देश नहीं, वीजा नियमों में स्पष्टता की कमी भी बनी वजह, चीन में अब तक 1486 की मौत

 

Anoop Singh

February, 1501:22 AM

वुहान. नई दिल्ली.
दुनिया के 24 देशों में फैल चुका जानलेवा कोरोना वायरस (कोविद 19) के चलते चीन में मरने वालों की संया 1486 तक पहुंच गई है। शुक्रवार को ही 121 लोगों ने जान गंवा दी। वहीं वायरस से संक्रमित होने वाले लोगों का आंकड़ा 64,627 पहुंच गया है। चीनी स्वास्थ्य अधिकारियों ने बताया कि 1,716 चिकित्सा कर्मचारी वायरस से संक्रमित हो चुके हैं। इनमें से छह लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं दूसरी ओर भारत सरकार द्वारा विमानों, सड़क मार्ग या बंदरगाह होते हुए प्रवेश देने से इनकार के बाद चीन के विभिन्न इलाकों में रह रहे 55,000 अनिवासी भारतीय और भारतीय मूल के लोग फंस गए हैं।
अभी भी वुहान शहर और आसपास के इलाकों में करीब 100 भारतीय फंसे हैं। बीजिंग में भारतीय दूतावास का अनुमान है 50,000 से अधिक भारतीय नागरिक चीन में काम कर रहे हैं। इसके अलावा ओवरसीज सिटीजनशिप ऑफ इंडिया (ओसीआइ) कार्डधारकों के लिए कोई स्पष्ट दिशा-निर्देश नहीं हैं। प्रवासी मामलों के विभाग के अधिकारियों के मुताबिक वीजा नियमों के बारे में स्पष्टता की कमी के कारण लोगों के फंसे होने के मामले भी सामने आए हैं।
क्रूज में अब तक 220 संक्रमित
जापान के योकोहामा बंदरगाह पर खड़े डायमंड प्रिसेंस कू्रज में मौजूद एक और भारतीय में वायरस की पुष्टि हुई है। इसी के साथ अब तक तीन क्रू मेंबर संक्रमित हो चुके हैं। टोक्यो स्थित ाारतीय दूतावास ने यह जानकारी दी। क्रूज में विभिन्न देशों के 3700 यात्री मौजूद हैं। अब तक कुल 220 लोगों में संक्रमण की पुष्टि हो चुकी है।
भारत में स्थिति नियंत्रण में
केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव प्रीति सुदान ने शुक्रवार को संक्रमण रोकने की तैयारियों को लेकर समीक्षा बैठक की। उन्होंने बताया कि देश में कोरोना वायरस की स्थिति पूरी तरह से नियंत्रण में है। नेपाल सीमा पर सघन थर्मल स्कैनिंग की जा रही है। भूटान और मालदीव जैसे पड़ोसी देशों की स्थिति पर भी नजर है।
अमृतसर में मिला संदिग्ध मरीज
मलेशिया से गुरुवार रात अमृतसर के श्री गुरु रामदास एयरपोर्ट पहुंची लाइट में कोरोना वायरस के संदिग्ध मरीज मिला।
उसे गुरु नानक देवजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। डॉक्टरों ने उसके ब्लड सैंपल लिए हैं। वहीं हिमाचल प्रदेश में वायरस के 111 संदिग्धों को निगरानी में रखा गया है।
उत्तर कोरिया : संदिग्ध को गोली मारी
उत्तर कोरिया में चीन से लौटे वायरस के संदिग्ध को गोली मारने की घटना सामने आई है। उत्तर कोरिया के ट्रेड अधिकारी ने गलती से सार्वजनिक बाथरूम का इस्तेमाल कर लिया था। अधिकारियों ने संक्रमण फैलाने का आरोप लगाते हुए उसे गोली मार दी। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक किम जोंग उन का आदेश है कि कोरोना से संक्रमित कोई व्यक्ति अगर आइसोलेशन से बाहर जाता है तो उस पर सैन्य कानून के मुताबिक कार्रवाई होगी।

anoop singh Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned