अब तक 5912 पक्षियों की मौत

पक्षियों का मरना जारी
17 जिलों में बर्ड फ्लू
153 पक्षी मिले मृत

By: Rakhi Hajela

Published: 20 Jan 2021, 07:57 PM IST


प्रदेश में मंगलवार को 153 और पक्षियों की मौत हो जाने के से राज्य में अब तक 5912 पक्षी मिल चुके हैं। राज्य के 33 जिलों में से 17 जिले बर्ड फ्लू संक्रमण से प्रभावित हैं। पशुपालन विभाग के अनुसार 27 जिलों में पक्षियों के 267 नमूनों में से 67 नमूनों की जांच में संक्रमण पाया गया है। रिपोर्ट के अनुसार बुधवार को 93 कौए, 21 मोर, 8 कबूतर और 31 अन्य पक्षी मृत पाए गए। 25 दिसंबर से अब तक प्रदेश में 4172 कौएए 323 मोरए 464 कबूतर और 953अन्य पक्षी मृत मिल चुके हैं। पशु पालन विभाग के अधिकारियों का कहना है कि किसी भी जिले में बर्ड फ्लू से किसी प्रवासी पक्षी की मौत नहीं हुई और पोल्ट्री फार्म भी सुरक्षित हैं।
अब तक जयपुर, दौसा, झुंझुनू, भीलवाड़ा, कुचामन सिटी, करौली, सवाई माधोपुर, टोंक, हनुमानगढ़, जैसलमेर, पाली, सिरोही, कोटा, बारां, झालावाड़,बांसवाड़ा, चित्तौडगढ़़, प्रतापगढ़ की रिपोर्ट पॉजिटिव मिल चुकी है। सीकर, भरतपुर, बीकानेर, चूरू, श्रीगंगानगर, जोधपुर, बाड़मेर, जालौर और टोंक नेगेटिव आई है जबकि नागौर से भेजे गए सैम्पल की रिपोर्ट का इंतजार है।
कहां कितने पक्षी मिले मृत
जयपुर में 34,अलवर में 14, दौसा में 4, सीकर में 1, कुचामन सिटी में 1, टोंक में 13, भरतपुर में 4, सवाई माधोपुर में 1,हनुमानगढ़ में 8, श्रीगंगानगर में 8, जैसलमेर 8, जालौर में 3,बाड़मेर में 3, जालौर में 25, पाली में 2, कोटा में 1, झालावाड़ में 13 पक्षी मृत पाए गए।
अब तक कहां कितने पक्षी मिले मृत
25 दिसंबर से अब तक जयपुर में 1235,अलवर में 95, दौसा 63, झुंझुनू में 223, सीकर में 111, अजमेर में 47, भीलवाड़ा में 83, नागौर में 122, कुचामन सिटी में 141, टोंक में 140, भरतपुर में 101, धौलपुर में 6, करौली में 19,सवाई माधोपुर में 154, बीकानेर में 74, चूरू में 250, हनुमानगढ़ में 250, श्रीगंगानगर में 142, जोधपुर में 323, बाड़मेर में 180, जैसलमेर में 102, जालौर में 41, पाली में170, सिरोही में 19, कोटा में 558, बारां में 405, बूंदी में 168, झालावाड़ में 561, बांसवाड़ा में 30, चित्तौडगढ़़ में 304, डूंगरपुर में 8,प्रतापगढ़ में 7, राजसमंद में 7 पक्षी मृत मिल चुके हैं।

Rakhi Hajela Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned