6 लाख का स्मार्ट टॉयलेट, सिर्फ 8 लोगों को ‘सुविधा’

Girraj Prasad Sharma | Publish: Mar, 17 2019 07:50:40 PM (IST) Jaipur, Jaipur, Rajasthan, India

  • हाल ए स्मार्ट सिटी
  • दो से तीन घंटे में ही हो जाती है
  • 4 करोड़ के स्मार्ट टॉयलेट बेकार

जयपुर। स्मार्ट सिटी के तहत शहर में करीब 4 करोड़ रुपए के स्मार्ट टॉयलेट (ई-टॉयलेट) लगाए जा रहे हैं, लेकिन बिना पानी व सीवर लाइन के सब बेकार पड़े हैं। स्मार्ट सिटी के अधिकारी दो साल में पानी और सीवर लाइन तक का इंतजाम नहीं कर पाए हैं। करीब 6 लाख रुपए का स्मार्ट टॉयलेट सिर्फ 8 लोगों को ही ‘सुविधा’ दे पा रहा है। खासबात यह है कि कंपनी को दो करोड़ रुपए से अधिक का भुगतान करने के बाद भी शहर में अभी तक पूरे टॉयलेट नहीं लग पाए हैं, जो टॉयलेट लग गएए उनमें दो से तीन घंटे बाद ही नो-एंट्री हो जाती है।

स्मार्ट सिटी योजना के तहत जयपुर स्मार्ट सिटी लिमिटेड कंपनी ने 3.91 करोड़ रुपए में शहर में करीब 50 स्मार्ट टॉयलेट लगाना शुरू किया है। इसके लिए गुजरात की एक कंपनी को मई 2017 में वर्क ऑर्डर दिया था। कंपनी को मार्च 2018 तक शहर में सभी 50 टॉयलेट लगाने थे, लेकिन एक साल बाद भी अभी तक शहर में केवल 34 टॉयलेट ही लग पाए हैं। इनमें भी अधिकतर टॉयलेट पानी और सीवर लाइन के बिना बंद पड़े हैं। स्मार्ट सिटी के अधिकारी दो साल में भी इनमें पानी व सीवर लाइन तक की व्यवस्था नहीं कर पाए हैं। जो टॉयलेट चालू हैं, वे दो-तीन घंटे बाद बंद हो जाते हैं। ऐसे में ये टॉयलेट जनता के किसी काम नहीं आ रहे हैं।

34 जगह पर लगाए टॉयलेट

स्मार्ट टॉयलेट में सबसे अधिक समस्या पानी को लेकर आ रही है। कंपनी ने शहर में 34 जगह टॉयलेट लगा दिए हैं, लेकिन इनमें अधिकतर में पानी का कनेक्टशन नहीं हो पाया है, कुछ टॉयलेट ऐसी जगह पर लगा दिए गए हैं, जहां सीवर लाइन तक नहीं हैं। ऐसे में टॉयलेट बेकार पड़े हैं।

25 लीटर की टंकी, एक बार ही भरती

शहर में कुछ जगह स्मार्ट टॉयलेट चालू भी हो गए हैं, लेकिन उसका गिने-चुने लोगों को ही फायदा मिल रहा है। इसके पीछे सबसे बड़ा कारण पानी की कमी है। एक टॉयलेट पर केवल 25 लीटर पानी की टंकी है, जो दिन में एक बार ही भरी जाती है। एक व्यक्ति के यूज करने के दौरान करीब 3 लीटर पानी की जरूरत होती है, ऐेसे में एक टॉयलेट की सुविधा सिर्फ 8 लोगों को ही मिल पा रही है।

टॉयलेट की हकीकत

१. स्थान - जेएलएन मार्र्गए जेकेलॉन के सामने
स्थिति - टॉयलेट को लगाए करीब दो साल हो गए, पानी की व्यवस्था नहीं करने से चालू नहीं हो पाया

2. स्थान - रामनिवास बाग
स्थिति - पानी का कनेक्शन नहीं होने से टॉयलेट चालू नहीं हो पाया है, इसमें सिक्का डालने वाली मशीन खराब पड़ी है।

3. स्थान - सेन्ट्रल पार्क
स्थिति - यहां टॉयलेट तो लगा दियाए लेकिन सीवर लाइन नहीं होने से चालू नहीं हो पाया है, यहां भी बेकार पड़ा है टॉयलेट

यहां लगाए टॉयलेट

अजमेरी गेट, सांगानेरी गेट, न्यू गेट के पास, जलेब चौक, हवामहल के सामने, पुरानी विधानसभा के बाहर, आमेर मावठा, रामनिवास बाग, सेन्ट्रल पार्क,स्टेच्यू सर्किल, जेकेलोन अस्पताल के बाहर, यूनिवर्सिटी के बाहर, गौरव टॉवर के पास, वर्ड ट्रेड पार्क के सामने, नारायणसिंह सर्किल

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned