scriptराजस्थान के इस बार 7 विधायकों ने देखा ‘सांसद’ बनने का सपना, जानें कौन-कौन पहुंच पाएगा दिल्ली…? | 7 MLAs of Rajasthan dreamed of becoming Member of Parliyament know who will be able to reach Delhi | Patrika News
जयपुर

राजस्थान के इस बार 7 विधायकों ने देखा ‘सांसद’ बनने का सपना, जानें कौन-कौन पहुंच पाएगा दिल्ली…?

राजस्थान में इस बार 7 विधायकों ने सांसद बनने का ख़्वाब देखा है। अधिकतर विधायकों ने राजनीतिक पार्टियों से चुनाव लड़ा है। जबकि शिव से निर्दलीय विधायक रविंद्र सिंह भाटी ने बाड़मेर-जैसलमेर से निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर चुनाव लड़ा।

जयपुरJun 03, 2024 / 03:38 pm

Lokendra Sainger

राजस्थान में लोकसभा चुनाव दो चरणों में संपन्न हो चुका है। जिसके परिणाम का इंतजार सभी प्रदेशवासी बेसब्री से कर रहे है। इस बार प्रदेश के 7 विधायकों ने सांसद बनने का ख़्वाब देखा है। अधिकतर विधायकों ने राजनीतिक पार्टियों से चुनाव लड़ा है। जबकि शिव से निर्दलीय विधायक रविंद्र सिंह भाटी ने बाड़मेर-जैसलमेर से निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर चुनाव लड़ा। विधायक से सांसद बनने का सपना देखने वाले इन विधायकों की किस्मत का फैसला 4 जून को हो जाएगा।
राजस्थान की सबसे चर्चित सीट बाड़मेर से निर्दलीय उम्मीदवार रविंद्र सिंह भाटी हाल में शिव से निर्दलीय विधायक है। भाटी ने अपने लोकसभा क्षेत्र की जनता की राय से चुनाव लड़ा। Exit Polls के मुताबिक सभी एजेंसियों ने राजस्थान में बीजेपी और इंडिया गठबंधन के अलावा किसी और को कोई सीट मिलते नहीं दिख रहा है। ऐसे में यह खबर रविंद्र सिंह भाटी के लिए अच्छी नहीं है।
कांग्रेस विधायक बृजेंद्र ओला को पार्टी ने झुंझुनूं से प्रत्याशी बनाया। हालांकि बृजेंद्र ओला ने टिकट को लेकर काफी मना किया। लेकिन फिर पार्टी आलाकमान की बात मानते हुए चुनाव लड़ा। इधर, टोक-सवाईमाधोपुर लोकसभा क्षेत्र से हरीश मीणा को कांग्रेस ने उम्मीदवार बनाया। जिनका सीधा मुकाबला वर्तमान सांसद सुखबीर सिंह जौनापुरिया है।
वहीं कांग्रेस ने पहली बार विधायक बने ललित यादव को अलवर से टिकट दिया। जहां उनका सीधा मुकाबला केंद्रीय मंत्री भूपेंद्र यादव से है। दौसा से वर्तमान विधायक मुरारीलाल मीणा को लोकसभा प्रत्याशी घोषित किया है। जिसके लिए शुरूआत में वे खुद तैयार नहीं थे। हालांकि बाद में उन्होंने जमकर चुनाव लड़ा।
कांग्रेस ने प्रदेश की तीन सीटों पर गठबंधन कर चुनाव लड़ा। जो नागौर, सीकर और बांसवाड़ा से हनुमान बेनीवाल है। खींवसर से वर्तमान विधायक हनुमान बेनीवाल को टिकट दिया। जिनका सीधा मुकाबला भाजपा उम्मीदवार ज्योति मिर्धा से है। बांसवाड़ा से इंडिया गठबंधन ने चौरासी विधायक राजकुमार रोत को बड़ी टालमटोल के बाद का टिकट दिया। जहां उनका मुकाबला हाल ही में कांग्रेस से भाजपा में शामिल हुए महेंद्रजीत मालवीया से है।

Hindi News/ Jaipur / राजस्थान के इस बार 7 विधायकों ने देखा ‘सांसद’ बनने का सपना, जानें कौन-कौन पहुंच पाएगा दिल्ली…?

ट्रेंडिंग वीडियो