scriptमोबाइल की गंदी लत पड़ी, परिजनों ने डांटा तो 14 साल की बच्ची ने कर लिया सुसाइड | Patrika News
जयपुर

मोबाइल की गंदी लत पड़ी, परिजनों ने डांटा तो 14 साल की बच्ची ने कर लिया सुसाइड

छात्रा को जब परिजनों ने मोबाइल चलाने से रोका तो उसने आत्महत्या कर ली।

जयपुरJul 03, 2024 / 11:03 am

Manish Chaturvedi

जयपुर। मोबाइल की आदत अब बच्चों की कमजोरी बनती जा रही है। जिसकी वजह से बच्चों की दिनचर्या बिगड़ गई है। हालात यह हो गए है कि अब बच्चे मोबाइल के बगैर परेशान हो जाते है। यहां तक की आत्महत्या जैसे कदम भी उठा लेते है। एक ऐसा ही मामला फिर सामने आया है। एक सातवीं कक्षा में पढ़ाई करने वाली छात्रा को जब परिजनों ने मोबाइल चलाने से रोका तो उसने आत्महत्या कर ली।
घटना मंगलवार रात की है। मामला कोटा के अनंतपुरा इलाके का है। जहां आज सुबह सूचना मिलने पर पुलिस घटनास्थल पर पहुंची। बहरहाल पुलिस के सामने परिजन आत्महत्या का कारण मोबाइल से रोकना बता रहे है। लेकिन पुलिस की ओर से पूरे मामले की जांच की जा रही है। आत्महत्या के क्या कारण रहे, पुलिस हर एंगल से जांच कर रहीं है।
पुलिस के सामने यह हैंगिंग केस है। जिसमें स्कूली छात्रा ने फंदा लगाकर सुसाइड किया है। ऐसे केस आमतौर पर कम आते है। इसलिए पुलिस की ओर से केस को लेकर गंभीरता बरती जा रहीं है। पुलिस ने बताया कि मृतका 14 वर्षीय अर्चना बरडा बस्ती की रहने वाली थी। पुलिस की ओर से शव का पोस्टमार्टम कराया जा रहा है। जिसके बाद शव परिजनों को सुपुर्द किया जाएगा।
बता दें कि कोटा में स्टूडेंट्स के आए दिन सुसाइड के मामले सामने आते है। इस साल अब तक दस कोचिंग स्टूडेंट ने कोटा में आत्महत्या की है। लेकिन स्कूली छात्रा की आत्महत्या का यह पहला मामला है।

Hindi News/ Jaipur / मोबाइल की गंदी लत पड़ी, परिजनों ने डांटा तो 14 साल की बच्ची ने कर लिया सुसाइड

ट्रेंडिंग वीडियो