अब जयपुर के पास लोगों को मिलेगा नया पिकनिक स्पॉट

पार्क में दिखेंगे झील, पहाड़ व प्रकृति के अन्य नजारे

By: Ankita Sharma

Published: 24 May 2018, 03:32 PM IST

टोडारायसिंह में एक और पिकनिक स्पॉट बनाने की तैयारी

 


टोडारायसिंह

शहर के सौंदर्यीकरण, आमसागर की बाइपास पुलिया व आधुनिक सुविधाओं से सुसज्जित नेहरू पार्क तथा शहीद स्मारक के बाद टोडारायसिंह क्षेत्र को प्रकृति के सान्निध्य में एक ओर पिकनिक स्पॉट की सौगात मिलेगी। जी हां, जल्द ही राजधानी जयपुर के पास ही लोगों को एक ओर पिकनिक स्पॉट मिल जाएगा।यहां से लोगों को हरे—भरे पहाडों के साथ ही झरने भी दिखेंगे। इसे लेकर नगरपालिका ने डीपीआर तैयार की है। उल्लेखनीय है कि प्राकृतिक छटा के बीच झीले, प्राचीन महल, मंदिर व बावडिय़ां समेत अन्य पुरासपंदा को समेटे टोडारायसिंह में पर्यटन की विपुल संभावनाएं हैं। वर्षों से उपेक्षित स्थलों के संरक्षण व पर्यटन की दृष्टि से विकसित किए जाने की मांग लंबित है। पुरातत्व विभाग ने इन स्थलों को अधिग्रहण कर संरक्षित का बोर्ड लगा दिया लेकिन उपेक्षित है। सुगम मार्गों के अभाव में इन स्थलों पर विदेशी व क्षेत्रीय सैलानी भी नहीं पहुंच पाते हैं। नगरपालिका ने प्राचीन महल, मंदिर व प्राकृतिक झीलों पर जाने के लिए बीसलपुर मार्ग से आमसागर झील के निकट पहाड़ी को काटकर सुगम मार्ग (बाइपास) का निर्माण करवाया है। वहीं आमसागर झील को विकसित करने के लिए कस्बे की ओर स्थित पहाड़ी पर पुलिया के निकट आधुनिक सुविधाओं से सुसज्जित पार्क विकसित करने को लेकर डीपीआर तैयार करवा रही है।

नेहरू पार्क की तर्ज पर बनेगा
नगर पालिकाध्यक्ष संतकुमार जैन ने बताया कि नेहरू पार्क की तर्ज पर आमसागर की पहाड़ी पर भी लंबा ट्रैक, कलर लाइटिंग, फव्वारें, फुलवारियां, लॉन, बेंच व पौधे लगाए जाएंगे। वहीं झील में बोटिंग सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी। आने वाले समय में टोडारायसिंह ही नहीं जिलेवासियों का सर्वश्रेष्ठ पिकनिक स्पॉट होगा। जहां हरियाली से आच्छादित पहाड़ी तलहटी में झील, पहाड़ व आधुनिकता लिए पार्क का सामंजस्य होगा। डीपीआर तैयार कर स्वायत्त शासन विभाग को भेजी जाएगी जहां स्वीकृति मिलने पर शीघ्र टेंडर कार्रवाई के बाद काम शुरू करवाया जाएगा।

Ankita Sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned