चुनावी मोड में आप, दो दर्जन प्रत्याशियों की दूसरी सूची शीघ्र

चुनावी मोड में आप, दो दर्जन प्रत्याशियों की दूसरी सूची शीघ्र

Firoz Khan Shaifi | Publish: Apr, 17 2018 11:40:43 AM (IST) Jaipur, Rajasthan, India

200 सीटों पर चुनाव लड़ने का रोडमैप किया तैयार


जयपुर। दिल्ली में सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी ने प्रदेश में इस साल के आखिर में होने जा रहे विधानसभा चुनाव के लिए कमर कस ली है। पार्टी ने प्रदेश में 200 सीटों पर चुनाव लड़ने की तैयारियां भी शुरू कर दी है। इसके लिए हर सीट का रोडमैप भी तैयार कर लिया है। हाल में एक दर्जन प्रत्याशियों की घोषणा के बाद अब बताया जा रहा है कि पार्टी दो दर्जन से ज्यादा प्रत्याशियों की घोषणा अगले सप्ताह कर सकती है। फिलहाल प्रत्याशियों की सूची केंद्रीय नेताओं वाली पीएसी के पास है।

 

पीएसी से मंजूरी के बाद इन प्रत्याशियों की घोषणा की जाएगी।पार्टी के जानकार सूत्रों की माने तो पार्टी ने ऐसी सीटों को भी चिह्नित कर लिया है जहां पार्टी का आधार काफ़ी मज़बूत है और वहां के लिए विशेष रणनीति तैयार की जा रही है।


शीघ्र प्रत्याशी घोषणा करने की यह है वजह
पार्टी के जानकार सूत्रों की माने तो आम आदमी पार्टी राज्य में भाजपा-कांग्रेस सहित अन्य क्षेत्रीए दलों से पहले अपने सभी प्रत्याशिय़ों की घोषणा कर देगी, जिससे प्रत्याशी अपने-अपने विधानसभा क्षेत्र में लोगों के बीच जाकर काम करेंगे।

प्रदेश प्रभारी भी कर चुके हैं दौरा
कुमार विश्वास को प्रदेश प्रभारी के पद से हटाकर नए प्रभारी बनाए गए पार्टी के वरिष्ठ दीपक वाजपेयी पिछले दो माह से प्रदेश के विभिन्न जिलों में कई विधानसभा क्षेत्रों का दौरा कर चुके हैं। और वहां राजनीतिक हालातों को लेकर पार्टी नेताओं से चर्चा कर चुके हैं।


कांग्रेस का फीस घटाओ-बचपन बचाओं आंदोलन कल
निजी स्कूलों की मनमानी और बेतहाशा फीस वृद्धि को वापस लेने की मांग को लेकर सोमवार को शहर कांग्रेस की ओर से किए गए शिक्षा संकुल के घेराव के दौरान सरकार को 24घंटे का अल्टीमेटम देने की मियाद आज शाम को पूरी हो रही है। आज शाम तक फीस वृद्धि वापस नहीं करने पर बुधवार से शहर कांग्रेस शहर के सभी 91 वार्डों में सुबह 10 बजे फीस घटाओं-बचपन बचाओ आंदोलन शुरू करने जा रही है। आंदोलन के तहत सभी वार्डों में कांग्रेस के वार्ड अध्यक्ष बच्चों के अभिभावकों की समस्याएं सुनेंगे। इसके बाद अभिभावकों की समस्याओं से सरकार और अधिकारियों को अवगत कराया जाएगा।

इसके बाद अभिभावकों की समस्याओं का निस्तारण नहीं हुआ तो शहर के 11 प्रमुख चौराहे पर कांग्रेस कार्यकर्ता मुख्यमंत्री और सरकार का पुतला दहन करेंगे। कांग्रेस कार्यकर्ताओं का कहना है कि इतना कुछ होने के बावजूद भी अगर सरकार की नींद नहीं टूटी तो कांग्रेस अभिभावकों को साथ लेकर मुख्यमंत्री आवास और मंत्रियों का घेराव करेगी। ऐसे में यदि कोई टकराव हुआ तो उसके लिए राज्य सरकार जिम्मेदार होगी।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned