समय पर सूचना दे दी तो लॉकडाउन की गैरहाजिरी मानी जाएगी हाजिरी

— वित्त विभाग ने जारी किया स्पष्टीकरण

By: Shailendra Agarwal

Updated: 24 Sep 2021, 12:24 AM IST

जयपुर। लॉकडाउन से पहले अवकाश या ट्यूर पर गए अथवा मुख्यालय छोड़ने वाले कर्मचारियों की हाजिरी के मामले में राज्य सरकार ने राहत दी है। वित्त विभाग ने स्पष्टीकरण जारी किया कि वाहनों के अभाव में लॉकडाउन में फंसे कर्मचारियों की गैरहाजिरी को नियमित सेवा माना जाएगा।
वित्त विभाग की ओर से 25 अप्रेल 21 से 1 जून 21 तक की हाजिरी को लेकर यह स्पष्टीकरण जारी किया है। यह स्पष्टीकरण उन कर्मचारियों के बारे में जारी किया गया है जो लॉकडाउन से पहले अधिकृत ट्यूर पर गए हुए थे या लॉकडाउन शुरू होने से पहले अनुमति लेकर सप्ताहांत पर मुख्यालय छोड़ दिया था और वाहन बंद होने के कारण ड्यूटी पर नहीं पहुंच पाए।
इनकी गैरहाजिरी पर राहत
— यदि लॉकडाउन से पहले सरकारी ट्यूर पर गए और वाहन नहीं मिलने से फंस गए तो स्थिति सामान्य होने पर लॉटे कर्मचारियों को हाजिरी पर राहत मिलेगी, बशर्ते फंस जाने के बारे में सूचना दे दी हो।
— पहले से अवकाश पर चल रहे कर्मचारी का लॉकडाउन में अवकाश पूरा हो गया, लेकिन वाहन आदि की समस्या के कारण समय पर नहीं लौट पाए तो इसकी समय पर सूचना देने वाले को स्थिति सामान्य होने तक के लिए हाजिरी में राहत। यदि बीमार हो गए तो उसका प्रमाण पत्र देना होगा।
— लॉकडाउन से पहले सप्ताहांत पर अनुमति लेकर मुख्यालय छोड़ दिया था और वाहन नहीं मिलने से फंस गए तो सूचना देने वालों को स्थिति सामान्य होने तक के लिए हाजिरी का नियमन।
— 25 अप्रेल से पहले अवकाश पर चले गए और अवधि पूरी होने से पहले लॉकडाउन के दौरान लॉटना चाहते थे, ऐसे कर्मचारियों को आवश्यकता के कारण लौटने की मंजूरी के आधार पर काम पर लौटने तक की हाजिरी नियमित कर दी जाएगी।

Shailendra Agarwal Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned