राजस्थान में 0 से 5 साल की उम्र के 70 लाख बच्चों के बनेंगे आधार कार्ड—जयपुर कलक्टर ने की शुरूआत

राजस्थान में 0 से 5 साल की उम्र के 70 लाख बच्चों के बनेंगे आधार कार्ड—जयपुर कलक्टर ने की शुरूआत

By: PUNEET SHARMA

Published: 07 Mar 2020, 10:46 AM IST

जयपुर।

प्रदेश में 0 से 5 साल तक के बच्चों के आधार कार्ड उनके घरों पर ही बनेंगे। इसके लिए आइटी विभाग ने काम शुरू कर दिया है। प्रदेश में 0 से 5 साल तक के 70 लाख बच्चों के आधार कार्ड बनेंगे। आधार कार्ड टैब्लेट के जरिए बनेंगे। शुक्रवार को जयपुर कलक्टर जोगाराम ने आधार कार्ड बनाने के लिए प्रशिक्षत आपरेटरों को किट का वितरण कर आधार कार्ड बनाने की शुरूआत की।

जिला कलक्टर जोगाराम ने शुक्रवार को पांच वर्ष तक की आयु के बच्चों का आधार नामांकन करने वाले ऑपरेटर्स को पहला सीईएलसी किट (कस्टमाइज टेबलेट) प्रदान कर इस अभियान का शुभारम्भ किया। सूचना प्रौद्योगिकी एवं संचार विभाग द्वारा 0 से 5 वर्ष तक के बच्चांंें के आधार नामांकन के लिए चाइल्ड एनरोलमेंट लाइट क्लाइंट ऑपरेटर द्वारा आंगनबाड़ी केन्द्रों, अस्पतालों एवं घर-घर जाकर आधार नामांकन का कार्य किया जायेगा।

जिला कार्यालय, सूचना प्रौद्योगिकी एवं संचार विभाग कलक्ट्रेट, जयपुर के उपनिदेशक रितेश कुमार शर्मा ने बताया कि जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में प्रत्येक ग्राम पंचायत पर और शहरी क्षेत्रों के प्रत्येक वार्ड में सीईएलसी आधार ऑपरेटर का चयन किया जायेगा जो 0 से 5 वर्ष तक के बच्चों के आधार नामांकन का कार्य करेगा। उन्होंने बताया कि इस कार्य हेतु महिला आपॅरेटर को प्राथमिकता दी जायेगी।
बच्चों के आधार नामांकन के लिये उनके माता-पिता की आधार कार्ड संख्या एवं उनकी बायोमीट्रिक पहचान की आवश्यकता होगी। इसी क्रम में प्रथम चरण में चयनित कुल 259 सीईएलसी आपॅरेटर को सीईएलसी किट वितरित किये जायेगें।
असल में प्रदेश में 98 प्रतिशत व्यस्क लोगों के आधार कार्ड बन चुके हैं लेकिन शिशुओं और 5 वर्ष तक के बच्चों के आधार कार्ड बनने में कुछ समस्याएं आती है। लिहाजा अब घर घर जाकर इनके आधार कार्ड बनाएं जाएंगे।

PUNEET SHARMA Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned