एडवांस्ड टेक्नोलॉजी के कोरोना टीके विशलेषण में 43 फीसदी लोग सकारात्मक

एडवांस्ड टेक्नोलॉजी कंसल्टिंग सर्विस ने देशभर में कोविड-19 टीकाकरण ( Kovid-19 vaccination campaign ) अभियान से संबंधित लोगों की भावनाओं का विश्लेषण ( Sentiment ) करने के लिए सेंटिमेंट एनालिसिस किया है। इस दौरान 43 प्रतिशत उपभोक्ताओं ने सकारात्मक प्रतिक्रियाएं ( Positive responses ) दिखाई, जबकि 33 प्रतिशत ने नकारात्मक रुख जताया। शेष 24 फीसदी लोगों ने तटस्थ भावनाओं को प्रदर्शित किया।

By: Narendra Kumar Solanki

Published: 06 Apr 2021, 06:30 PM IST

जयपुर। एडवांस्ड टेक्नोलॉजी कंसल्टिंग सर्विस (एटीसीएस) ने देशभर में कोविड-19 टीकाकरण अभियान से संबंधित लोगों की भावनाओं का विश्लेषण करने के लिए सेंटिमेंट एनालिसिस किया है। इस दौरान 43 प्रतिशत उपभोक्ताओं ने सकारात्मक प्रतिक्रियाएं दिखाई, जबकि 33 प्रतिशत ने नकारात्मक रुख जताया। शेष 24 फीसदी लोगों ने तटस्थ भावनाओं को प्रदर्शित किया। इस अध्ययन के दौरान सामूहिक टीकाकरण, बुजुर्गों की देखभाल, प्रोटोकॉल, प्रतिरक्षा, खुराक का शैड्यूल और एप-आधारित उपभोक्ता सहायता को शामिल किया गया।
आपकों बता दे कि एडवांस्ड टेक्नोलॉजी कंसल्टिंग सर्विस (एटीसीएस) ने देशभर में अपने 600 से अधिक कर्मचारियों और उनके परिवारों के लिए टीकाकरण अभियान की घोषणा की है। ग्लोबल टेक्नोलॉजी कंपनी भारत में अपने सभी लाभार्थियों के लिए टीकाकरण की लागत को कवर करेगी। इसके साथ ही एटीसीएस उन चंद शुरुआती कंपनियों में शामिल हो गई है, जिन्होंने अपने कर्मचारियों और उनके परिवारों के लिए कोविड-19 टीकाकरण अभियान की घोषणा की है। एटीसीएस ने विश्व स्वास्थ्य संगठन की थीम को सपोर्ट करने के लिहाज से यह पहल की है। उल्लेखनीय है कि विश्व स्वास्थ्य संगठन ने वर्तमान महामारी से निपटने के लिए 'बिल्डिंग अ फैरेर हेअल्थीर वल्र्डÓ थीम की घोषणा की है।
एटीसीएस इंडिया के मैनेजिंग डायरेक्टर संजुल वैश ने कहा कि एटीसीएस अपने कर्मचारियों के स्वास्थ्य और उनकी भलाई के लिए निरंतर काम करता है और इसलिए हमने कोविड-19 टीकाकरण से संबंधित सारे खर्च को वहन करने का फैसला किया है। सभी कर्मचारियों को और उनके आश्रितों को, जो टीकाकरण के लिए तैयार हैं, उन्हें यह वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी।Ó
एटीसीएस ने अपने कर्मचारियों को दो सप्ताह का कोविड अवकाश देने का फैसला भी किया है। यह अवकाश कर्मचारियों को देय सवैतनिक अवकाश के अलावा होगा। भारत में अभी कंपनी में 600 से अधिक कर्मचारी काम कर रहे हैं। एटीसीएस अपने कर्मचारियों के लिए एक कॉर्पोरेट बीमा पॉलिसी भी लागू करता है, जो आईआरडीए के प्रचलित मानदंडों के अनुसार कोरोना वायरस पॉजिटिव रोगियों को कवर करती है।
कंपनी द्वारा किए गए सेंटिमेंट एनालिसिस में आगे कहा गया है कि देश में पिछले हफ्ते कोविड संबंधी चर्चाओं में 15 प्रतिशत की कमी आई और इस दौरान टीकाकरण की आवश्यकता को लेकर बहुत अधिक सकारात्मक बातचीत की गई। हालांकि कई उपभोक्ताओं ने टीका लगवाने के बाद भी संक्रमित होने की घटनाओं पर अपनी चिंता व्यक्त की। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार महामारी की आगामी दूसरी लहर के साथ सरकार ने पिछले 24 घंटे में 79,10,5163 लोगों को टीके की 16 लाख से अधिक खुराक लगाई (5 अप्रेल 2021 तक की स्थिति के अनुसार)। मंत्रालय की वेबसाइट के अनुसार देश में 7 लाख से अधिक सक्रिय केस हैं, जो कि कुल संक्रमित लोगों का 5.89 प्रतिशत है। रिकवरी रेट 92.80 प्रतिशत है।

Narendra Kumar Solanki Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned