कार्यालय सूने, परिवार के साथ बिताया समय

chandra shekar pareek

Publish: Dec, 09 2018 01:26:11 AM (IST) | Updated: Dec, 09 2018 01:26:12 AM (IST)

Jaipur, Jaipur, Rajasthan, India

विधानसभा चुनाव के मतदान होने के बाद सभी प्रत्याशियों की किस्मत का फैसला मतपेटियों में कैद हो गया है, लेकिन सर्वे और रूझान आने लग गए हैं। इसी के बाद से प्रत्याशियों की जीत-हार के कयास भी तेज हो गए हैं। कयासों के दौर में जहां कई प्रत्याशियों के घर और कार्यालय सुनसान हो गए हैं तो वहीं कई कार्यालयों पर समर्थकों ने कमान अपने हाथ में ले रखी है। दरअसल मतदान प्रक्रिया पूरी होने से पहले सभी प्रत्याशी और समर्थक चुनाव प्रचार में व्यस्त थे, इसलिए अधिकांश लोगों ने शनिवार को आराम कर थकान उतारी। साथ ही परिवारजनों के साथ समय बिताया।

सिविल लाइंस
सिविल लाइंस विधानसभा क्षेत्र के भाजपा प्रत्याशी और सामाजिक कल्याण और न्याय मंत्री अरुण चतुर्वेदी के कार्यालय पर ताले लगे मिले। जहां एक दिन पहले तक समर्थकों की भीड़ लगी रहती थी, लेकिन मतदान के अगले ही दिन सन्नाटा पसरा रहा। वहीं इसके विपरित कांग्रेस प्रत्याशी प्रतापसिंह खाचारियावास के आवास और प्रधान कार्यालय पर समर्थकों का जमावड़ा मिला। हालांकि खाचरियावास के कार्यालय पर भी पहले की अपेक्षा समर्थकों की संख्या कम थी।

मालवीय नगर
मालवीय नगर विधानसभा के भाजपा प्रत्याशी कालीचरण सराफ के कार्यालय पर भी उनके परिजन और कुछ समर्थक चुनावी समीकरण बैठाते नजर आए। वहीं सराफ ने घर पर आराम किया और परिवारजनों से बात की। इसके बाद सराफ ने जनता और समर्थकों से फीडबैक लिया। कांग्रेस प्रत्याशी अर्चना शर्मा भी कई दिनों से ताबड़तोड़ प्रचार कर रही थी, इसलिए शनिवार सुबह शर्मा ने घर पर ही लोगों से मुलाकात की। इसके बाद क्षेत्र में जाकर फीडबैक लिया।

आदर्श नगर
आदर्श नगर के भाजपा प्रत्याशी अशोक परनामी ने घर पर सुबह अखबार के जरिए मतदान के दिन की जानकारी जुटाई। इसके बाद परनामी भाजपा दफ्तर गए और लोगों से मुलाकात की। वहीं इसके बाद परनामी बैठकों में व्यस्त हो गए। वहीं कांग्रेस प्रत्याशी रफीक खान ने घर के सदस्यों के साथ चर्चा की और उसके बाद क्षेत्र के लोगों से फीडबैक लिया। रफीक के पास भी समर्थकों की अच्छी खासी भीड़ रही।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned