मरु प्रदेश के इस इलाके में अब 'जल तांडव' के आसार

Dharmendra Singh | Publish: Sep, 08 2018 01:14:12 PM (IST) | Updated: Sep, 08 2018 01:22:51 PM (IST) Jaipur, Rajasthan, India

https://www.patrika.com/rajasthan-news/

जयपुर
मरु प्रदेश कहे जाने वाले राजस्‍थान के बड़े हिस्‍से में जल तांडव मचा हुआ है, प्रदेश के उत्तर पूर्व और दक्षिण के जिलों में जाते-जाते मानसून फिर सक्रिय हुआ और कई जिलों में बीते चौबीस घंटे में हुई मूसलाधार बारिश से बाढ़ के हालात बन गए हैं। हाड़ौती इलाके में जहां मूसलाधार बारिश से जनजीवन प्रभावित हुआ है, वहीं मौसम विभाग ने आज भरतपुर, अलवर, सवाई माधोपुर और धौलपुर में भारी बारिश होने का ऑरेंज अलर्ट जारी किया है।

पश्चिमी राजस्‍थान से मौसम की बेईमानी
मौसम विभाग के अनुसार उत्तरी पाकिस्तान की ओर सक्रिय चक्रवाती तंत्र पंजाब, हरियाणा और उत्तर प्रदेश की ओर बढ़ रहा है। वहीं मध्यप्रदेश के उत्तर पश्चिमी हिस्सों में बने निम्न वायुदाब क्षेत्र के असर से प्रदेश के उत्तर पूर्व और दक्षिण के कुछ जिलों में अगले चौबीस घंटे भारी बारिश होने का अनुमान है। हालांकि प्रदेश के पश्चिमी जिले बीकानेर, चूरू और श्रीगंगानगर में मौसम शुष्क रहा है और दिन का तापमान 32 डिग्री व उससे ज्यादा रिकॉर्ड हुआ है।

बारां जिले में बाढ़ के हालात
बारां जिले में बाढ़ के हालात बने हुए हैं। भारी बारिश से जिले के कवाई कंवरपुरा गांव में मकान ढह गया, जिसके नीचे दबे छह लोगों में से दो की मौत हो गई। वहीं चार लोगों को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। भारी बारिश के चलते शहर के कई इलाके जलमग्न हो गए। वहीं आज जिला कलक्टर ने जिले के स्कूलों में अवकाश की घोषणा की है। जिला प्रशासन राहत एवं बचाव कार्य में जुटा हुआ है।

गुलाबीनगर में हवा ले उड़ी बारिश
राजधानी में बीती शाम मेघ उमड़े और करीब 15 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से हुई बारिश ने पूरे शहर को तर कर दिया। लंबे इंतजार के बाद शहर में झमाझम बारिश हुई और करीब डेढ़ घंटे में जयपुर कलक्ट्रेट पर पौन इंच बारिश रिकॉर्ड हुई। शहर में बीती शाम जिस तरह से मेघ उमड़े उससे मूसलाधार बारिश का दौर लंबा चलने के आसार बने, लेकिन तेज रफ्तार से चली हवा के सामने मेघ कमजोर साबित हुए और करीब डेढ़ घंटे में शहर में एक इंच से भी कम बारिश रिकॉर्ड हो सकी है।

बीसलपुर में छितराई बारिश, छाई मायूसी
शहर की लाइफ लाइन बीसलपुर बांध में फिर से जलस्तर स्थिर रहा है। बांध के आसपास हल्की बारिश भी हुई, लेकिन फिर भी बांध के जलस्तर में बढ़ोतरी नहीं हो सकी है। आज सुबह सात बजे बांध का जलस्तर 309.26 आरएल मीटर दर्ज हुआ है। त्रिवेणी में पानी का बहाव 1.20 मीटर उंचाई पर रहने से बांध में धीमी गति से पानी की आवक हो रही है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned