scriptAll universities will have similar courses by October | सभी विश्वविद्यालयों में अक्टूबर तक होंगे समान पाठ्यक्रम | Patrika News

सभी विश्वविद्यालयों में अक्टूबर तक होंगे समान पाठ्यक्रम

विश्वविद्यालयों को नई शिक्षा नीति के अनुरूप समान विषयवार पाठ्यक्रम तैयार करने जरूरी होंगे। राज्यपाल एवं कुलाधिपति कलराज मिश्र ने विश्वविद्यालय के कुलपतियों को समूह 30 अक्टूबर तक समयबद्ध रूप से पाठ्यक्रम बनाने के निर्देश दिए हैं। राज्यपाल मिश्र ने कुलपति संवाद बैठक में कहा कि विश्वविद्यालयों में चॉइस बेस्ड क्रेडिट सिस्टम और नई शिक्षा नीति को लागू करनी जरूरी होगी। इसके तहत कला, वाणिज्य, विज्ञान, सामाजिक विज्ञान और अन्य संकायों के समान पाठ्यक्रम बनाने होंगे ताकि विद्यार्थियों के अध्ययन-अध्यापन में एकरूपता रहे। उन्होंने संविधान दिवस से पूर्व सभी विश्वविद्यालयों को राजस्थान स्टेट रोड डवलपमेंट कॉरपोरेशन के साथ बातचीत कर संविधान पार्क बनाने के निर्देश दिए ।

जयपुर

Published: June 27, 2022 11:27:29 pm

विश्वविद्यालयों को नई शिक्षा नीति के अनुरूप समान विषयवार पाठ्यक्रम तैयार करने जरूरी होंगे। राज्यपाल एवं कुलाधिपति कलराज मिश्र ने विश्वविद्यालय के कुलपतियों को समूह 30 अक्टूबर तक समयबद्ध रूप से पाठ्यक्रम बनाने के निर्देश दिए हैं। राज्यपाल मिश्र ने कुलपति संवाद बैठक में कहा कि विश्वविद्यालयों में चॉइस बेस्ड क्रेडिट सिस्टम और नई शिक्षा नीति को लागू करनी जरूरी होगी।

kalraj mishra
kalraj mishra

राज्यपाल एवं कुलाधिपति कलराज मिश्र ने कहा है कि इसके तहत कला, वाणिज्य, विज्ञान, सामाजिक विज्ञान और अन्य संकायों के समान पाठ्यक्रम बनाने होंगे ताकि विद्यार्थियों के अध्ययन-अध्यापन में एकरूपता रहे। उन्होंने संविधान दिवस से पूर्व सभी विश्वविद्यालयों को राजस्थान स्टेट रोड डवलपमेंट कॉरपोरेशन के साथ बातचीत कर संविधान पार्क बनाने के निर्देश दिए ।

शुरू होंगी रेडक्रॉस गतिविधियां

जिन विश्वविद्यालयों का रेडक्रॉस से अनुबन्ध हो चुका है, उन्हें विद्यार्थियों को रेडक्रॉस गतिविधियों से जुड़े प्रशिक्षण की शुरुआत करनी होगी। जिनका अनुबंध नहीं हुआ है उन्हें जल्द विद्यार्थियों को इससे जोड़ना होगा। विश्वविद्यालयों को गोद लिए गांवों में विद्यार्थियों की गतिविधियां भी बढ़ानी होगी।

कैलेंडर की हो अनुपालना
कुलाधिपति ने विश्वविद्यालयों को शैक्षिक कैलेंडर की पालना के तहत समय पर दाखिले देने, सेमेस्टर प्रणाली को लागू करने पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि निश्चित समय पर दाखिलों से विद्यार्थियों को पढ़ाई के लिए पर्याप्त समय मिल सकेगा। साथ ही विश्वविद्यालयों में एकीकृत प्रबन्ध व्यवस्था लागू करने के निर्देश भी दिए। विश्वविद्यालयों को पाठ्यक्रम के साथ नवाचार की जानकारी देने, नई शिक्षा के अनुसार रोजगारोन्मुखी शिक्षा प्रदान करने वाले पाठ्क्रम बनाने, केंद्रीय पुस्तकालयों में लाइब्रेरी बनाने, प्रतियोगी परीक्षाओं से जुड़ी सामग्री के लिए पृथक वाचनालय बनाने को कहा।

newsletter

Anand Mani Tripathi

आनंद मणि त्रिपाठी (@aanandmani) राजनीति, अपराध, विदेश, रक्षा एवं सामरिक मामलों के पत्रकार हैं। पत्रकारिता के तीनों माध्यम प्रिंट, टीवी और आनलाइन में गहरा और अपनी तेज तर्रार रिपोर्टिंग के लिए जाने जाते हैं। पश्चिम बंगाल के कलकत्ता में जन्म हुआ। प्रारंभिक शिक्षा उत्तर प्रदेश के कानपुर और बस्ती में हुई। माध्यमिक शिक्षा नवोदय विद्यालय बस्ती, फैजाबाद और पूर्वोत्तर त्रिपुरा के धलाई जिले में हुई। अयोध्या के साकेत महाविद्यालय से स्नातक और 2009 में जेआईआईएमसी,दिल्ली से पत्रकारिता का डिप्लोमा किया। हरियाणा से पत्रकारिता आरंभ की। शिक्षा, विज्ञान, मौसम, रेलवे, प्रशासन, कृषि विभाग और मंत्रालय की रिपोर्टिंग की। इंवेस्टिगेटिव रिपोर्टिंग से शिक्षा और रेलवे विभाग के कई भ्रष्टाचार का खुलासा किया। रक्षा मंत्रालय के रक्षा संवाददाता पाठयक्रम-2016 पूरा किया। इसके बाद रक्षा मामलों की पत्रकारिता शुरू कर दी। चीन, पाकिस्तान और कश्मीर मामलों पर तीक्ष्ण नजर रहती है। लेफ्टिनेंट उमर फैयाज की हत्या 2017, राइफलमैन औरंगजेब की हत्या 2018, जम्मू—कश्मीर में बदले 2018 में बदले राजनीतिक समीकरण, पुलवामा हमला 2019, कश्मीर से 370 का हटना, गलवान घाटी मुठभेड़ 2020 को बेहद करीब से जम्मू और कश्मीर में रहकर ही कवर किया। कोरोना काल 2020 में भी लददाख से नेपाल तक की यात्रा चीन के बदलते समीकरण को लेकर की। इसके साथ ही लोकसभा चुनाव 2019 में जम्मू कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, हरियाणा और पंजाब की रिपोर्टिंग की। 9 नवंबर 2019 को श्रीराम जन्म भूमि अयोध्या मामले में आए फैसले की अयोध्या से कवर किया। 2022 उत्तरप्रदेश् चुनाव को सहारनपुर से सोनभद्र तक मोटर साइकिल के माध्यम से कवर किया। पत्रकारिता से इतर आनंद मणि त्रिपाठी को संगीत और पर्यटन का जबरदस्त शौक है। इन्हें किसी भी कार्य में असंभव शब्द न प्रयोग करने के लिए जाना जाता है...

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon : राजस्थान में 3 अगस्त से बारिश का नया सिस्टम, पूरे प्रदेश में होगी झमाझमNSA डोभाल की मौजूदगी में बोले मुस्लिम धर्मगुरु- 'सर तन से जुदा' हमारा नारा नहीं, PFI पर प्रतिबंध की बनी सहमतिकीमत 4.63 लाख रुपये से शुरू और देती हैं 26Km का माइलेज! बड़ी फैमिली के परफेक्ट हैं ये सस्ती 7-सीटर MPV कारेंराजस्थान में भारी बारिश का दौर जारी, स्कूलों की तीन दिन की छुट्टी, आज इन जिलों में झमाझम की चेतावनीWeather Update: राजस्थान में झमाझम बारिश को लेकर अब आई ये खबरराजस्थान में आज यहां होगी बारिश, एक सप्ताह तक के लिए बदलेगा मौसमएमपी में 220 करोड़ से बनेगा 62 किमी लंबा बायपास, कम हो जाएगी कई शहरों की दूरी, जारी हो गए टेंडरसरकारी नौकरी लगवा देंगे कहकर 10 युवाओं को लगाई 75 लाख रुपए की चपत, 2 गिरफ्तार

बड़ी खबरें

Bihar News: RCP सिंह के इस्तीफे के बाद गरजे अजय आलोक, कहा - 'ये नीतीश कुमार नहीं, बल्कि नाश कुमार है बिहार के CM'ISRO का SSLV-D1 की लॉन्चिंग हुई फेल, कहा- सैटेलाइट अब किसी काम का नहींगुजरात विधानसभा चुनाव से पहले अरविंद केजरीवाल ने आदिवासियों से किए 6 वादे, कहा- ट्राईबल एडवाइजरी कमिटी का इसी समाज से होगा चेयरमैनदिल्ली रोहतक रेलवे लाइन पर मालगाड़ी के 8 डिब्बे पटरी से उतरे, रेलवे ट्रैक जामजम्मू-कश्मीर : श्रद्धालुओं के आगमन में भारी गिरावट के बीच अमरनाथ यात्रा स्थगित20 रुपए के तिरंगे के लिए सभी कर्मचारियों के वेतन से 38 रुपए काटेगा रेलवे, कर्मचारी यूनियनों ने शुरू किया विरोधबाराती बनकर पहुंचे ED के अधिकारी, टीम को देखते ही कारोबारी ने फेंका सोने का Iphoneबांग्लादेश में श्रीलंका जैसे हालात, 50% बढ़ी पेट्रोल-डीजल की कीमत, हाथों में लालटेन ले सड़कों पर उतरे लोग
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.