राजस्थान में 12 अक्टूबर से एंबुलेंस सेवा होगी ठप... देखिए ऐसा क्या हुआ

जयपुर . राजस्थान के Ambulance Workers 12 अक्टूबर से प्रदेश में Ambulance Service को ठप करेंगे।

By: Anil Chauchan

Updated: 08 Oct 2020, 08:00 PM IST

जयपुर . राजस्थान के एंबुलेंस कर्मचारी ( Ambulance Workers ) एक बार फिर से आंदोलन करने के मूड में है। गुरुवार को हुई एंबुलेंस ( Ambulance ) कर्मचारियों की बैठक में निर्णय लिया गया है कि 12 अक्टूबर से प्रदेश में एंबुलेंस सेवा ( Ambulance Service ) को ठप कर दिया जाएगा। सरकार से पिछले महिनों में हुई वार्ताओं का कोई परिणाम नहीं निकलने से एंबुलेंस कर्मचारियों में रोष व्याप्त है।


राजस्थान एंबुलेंस कर्मचारी युनियन के प्रदेशाध्यक्ष वीरेन्द्र सिंह शेखावत ने बताया कि गुरुवार को एंबुलेंस सेवा 108 व 104 के कर्मचारीयों की बैठक जयपुर हुई जिसमें करीब-करीब सभी जिलों के प्रतिनिधियों ने भाग लिया। एंबुलेंस कर्मचारी अक्टूबर 2019 से अपनी मांगों को लेकर सघंर्षरत हैं, लेकिन आजतक आश्वासन के अलावा कुछ नहीं मिला जबकि एंबुलेंस कर्मचारी पूरे कोराना काल में प्रथम सिपाही बनकर प्रदेशवासियों की सेवा कर रहे हैं। उधर सरकार एंबुलेंस कर्मचारीयों की अनदेखी कर रही है। एंबुलेंस कर्मचारी यूनियन के प्रतिनिधी राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के अधिकारीयों से पिछले 6 माह से लगातार वार्ताएं कर रहे हैं पर कोई परिणाम नहीं निकला।

एंबुलेंस सेवा प्रदाता कंपनी जीवीके ईएमआरआई की तरफ से भी कर्मचारीयों को बहुत परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। उन्होंने बताया कि एंबुलेंस वाहनों मे समय पर डीजल नहीं डलवाना, मरम्मत कार्य समय पर नहीं करवाना, एंबुलेस वाहनों में कोरोना से सुरक्षा के लिए मास्क ग्लफ्स, सेनेटाइजर इत्यादि उपलब्ध नहीं करवाना ,एंबुलेंस कर्मचारीयों को बिना कारण कंपनी के अधिकारीयों की ओर से परेशान करना, खटारा एंबुलेंस वाहनों को जबदस्ती चलवाना व उनका डीजल एवरेज के लिए परेशान किया जाता है।

Show More
Anil Chauchan Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned