बागियों के भविष्य का फैसला करेंगे अमित शाह

neha soni | Updated: 01 Mar 2019, 03:50:58 PM (IST) Jaipur, Jaipur, Rajasthan, India

भाजपा की लोकसभा चुनाव की तैयारी, जावड़ेकर ने सौंपी बागियों की सूची

जयपुर।
भाजपा में बागियों की वापसी को लेकर प्रयास तेज हो गए हैं। प्रदेश चुनाव प्रभारी और केन्द्रीय मानव संसाधन मंत्री प्रकाश जावडेकर ने विधानसभा चुनावों में अच्छा प्रदर्शन करने वाले बागियों की सूची भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह को सौंपी है। इस सूची में 25 से ज्यादा बागियों के नाम बताए जा रहे हैं। बागियों को वापस लेना है या नहीं, किस शर्त पर उनको वापस लेना है। यह सब निर्णय अब अमित शाह को करना है।
जिन बागियों की वापसी की चर्चा चल रही है, उनमें से दो पूर्व मंत्री और कई विधायक शामिल हैं। अमित शाह को जो सूची दी गई है, उसमें घनश्याम तिवाड़ी का भी नाम है। पार्टी सूत्रों के मुताबिक प्रकाश जावड़ेकर की अमित शाह से इस बारे में बातचीत हो चुकी है। सूची में 25 नाम बताए जा रहे हैं, लेकिन बताया जा रहा है कि प्रदेश नेतृत्व 12 से 15 बागियों को ही वापस लेना चाहता है, शाह ने सहमति नहीं दी है। पार्टी चाहती है कि बागियों को वापस लेना है तो सभी को पार्टी में लिया जाए और उनके सामने यह शर्त रखी जाए कि वे पार्टी में लिए तो जा रहे हैं, लेकिन उनको चुनाव नहीं लड़ाया जाएगा। शाह आधे बागियों को लेने पर सहमत नहीं हैं। वे चाहते हैं कि पार्टी में वापसी होगी तो सबकी होगी, वरना किसी की नहीं होगी।

इन प्रमुख बागियों की वापसी पर चल रही चर्चा
देवेन्द्र सिंह रावत, ब्यावर
देवी सिंह शेखावत, बानसूर
हेम सिंह भड़ाना, थानागाजी
गिरधारी तिवारी, भरतपुर
लादू लाल, सहाड़ा
प्रभुदयाल, लूणकरणसर
राजकुमार रिणवा, रतनगढ़
देवेन्द्र कटारा, डूंगरपुर
दीनदयाल कुमावत, फुलेरा
कुलदीप धनकड़, विराटनगर
राकेश मेघवाल, परबतसर
सुरेन्द्र गोयल, जैतारण
अजय सोनी, भीम
रणधीर सिंह भिंडर, वल्लभनगर
घनश्याम तिवाड़ी, सांगानेर

विधानसभा के चुनाव में किए थे बाहर
भाजपा ने विधानसभा चुनावों के समय तीस से ज्यादा बागियों को बाहर कर दिया था। इन बागियों में से कई ऐसे थे, जो चुनाव में दूसरे नम्बर पर रहे थे। कई जगह बागियों को इतने वोट मिले कि भाजपा प्रत्याशियों की जमानत ही जब्त हो गई थी। भाजपा इस बात से परेशान है कि यदि लोकसभा में इन बागियों ने खेल बिगाड़ा तो इसका नुकसान उठाना पड सकता है और भाजपा अभी किसी भी रिस्क लेने के मूड में नहीं है।

मोदी का संवाद, व्यवधान भी
पीएम का वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए कार्यकर्ताओं से संवाद के तहत शहर के सभी मण्डल कार्यकर्ता जुटे। मुख्य कार्यक्रम सांगानेर क्षेत्र में हुआ। यहां भाजपा प्रदेशाध्यक्ष मदनलाल सैनी भी शामिल हुए। मालवीय नगर में कुलवंत सिंह, महिला आयोग की पूर्व अध्यक्ष सुमन शर्मा शामिल हुए। पौंड्रिक मंडल में राजेंद्र शर्मा, एम सादिक खान आदि मौजूद रहे। सांगानेर में संवाद के दौरान न्यूज चैनल पर कांग्रेस के रणदीप सुरजेवाला केा बयान का फ्लैश चला। यह देख कार्यकर्ता भी परेशान हो गए। बाद में संवाद दूरदर्शन न्यूज चैनल पर शुरू किया गया।

Show More

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned