आयुष नर्सेज भर्ती के पदों में कटौती से नाराज नर्सेज करेंगे आंदोलन

— 1650 पदों में से सरकार ने 600 पद भर बंद कर दी भर्ती प्रकिया
— वंचित आवेदकों ने दी आंदोलन की चेतावनी

By: Tasneem Khan

Published: 05 Sep 2020, 11:35 AM IST

जयपुर। साल 2013 की आयुष नर्सेज भर्ती में आधे—अधूरे पद भरकर, भर्ती प्रक्रिया बंद कर देने से वंचित आवेदकों ने राज्य सरकार से नाराजगी जाहिर की है। अब ये वंचित आवेदक प्रदेश व्यापी आंदोलन की रणनीति तैयार कर रहे हैं। वंचित आवेदकों का कहना है कि सरकार भर्ती प्रक्रिया जितने पदों के लिए शुरू की गई थी, उतने पदों को नहीं भरना चाहती। जबकि लगातार रोजगार देने का दावा करने वाली सरकार खुद ही अभ्यर्थियों को बेरोजगार कर ररही है। राजस्थान आयुर्वेद नर्सेज संयुक्त संघर्ष समिति के प्रदेश संयोजक धर्मेंद्र फोगाट के नेतृत्व में 2013 भर्ती के वंचित आयुष नर्सेज के शिष्टमंडल ने मुख्यमंत्री को इस बारे में ज्ञापन भी दिया है, लेकिन सरकार की ओर से अब तक कोई आश्वासन तक नहीं दिया है। इस कारण अब प्रदेशव्यापी आंदोलन चलाया जाएगा।

इन पदों पर होनी थी भर्ती
प्रदेश संयोजक धमेंद्र फोगाट ने बताया कि आयुष नर्सेज के लिए पिछली कांग्रेस सरकार ने 2013 मे 1650 पदों पर भर्ती प्रक्रिया चालू की थी। भर्ती प्रक्रिया पूरी होने के बावजूद तत्कालीन भाजपा सरकार ने इसमें 1005 पदों की कटौती कर केवल 600 पदों पर ही भर्ती कर इतिश्री कर ली। उसके बाद फिर कांग्रेस सरकार आने के बाद भी अपने पिछले घोषित पदों पर भर्ती दोबारा नहीं की गई। वंचित आयुष नर्सेज का कहना है कि आज तक इतने बड़े पदों में कटौती पहली बार देखी गई जो की असंवैधानिक है। बेरोज़गारी से आयुष नर्सेज में आक्रोश है।

सरकार ने उम्मीदें पूरी नहीं की
प्रदेश प्रवक्ता रतन कुमार ने बताया कि लंबे समय से बेरोजगारी की मार झेल रहे नर्सेज में फिर से कांग्रेस सरकार आने पर उम्मीद जागी थी। मुख्यमंत्री ने इन पदों पर भर्ती की मांग के बाद बीडी कल्ला की अध्यक्षता में कमेटी भी बनाई थी। लेकिन कमेटी की रिपोर्ट सार्वजनिक नहीं की गई। इसीलिए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को ज्ञापन देकर मांग की गई रिपोर्ट सार्वजनिक कर 2013 की आयुष नर्सेज भर्ती को पूरी करें। मांग पूरी नहीं करने पर वंचित नर्सेज की ओर से प्रदेशभर में आंदोलन किया जाएगा।

Tasneem Khan Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned