सोशल मीडिया पर कोरोना के संबंध में भ्रामक प्रचार करने वाला गिरफ्तार

जयपुर के रामगंज सहित पूरे परकोटे में पुलिस ने कर्फ्यू लगा रखा हैं और पूरी चारदीवारी के इलाके को सील कर दिया गया है।

By: Lalit Tiwari

Published: 03 Apr 2020, 08:48 PM IST

जयपुर के रामगंज सहित पूरे परकोटे में पुलिस ने कर्फ्यू लगा रखा हैं और पूरी चारदीवारी के इलाके को सील कर दिया गया है। लोगों के आने-जाने घरों से बाहर निकलने और छतों पर जाने पर पूरी तरह से रोक लगी हुई है। इसके लिए ड्रोन से निगरानी की जा रही है। उधर पुलिस सोशल मीडिया पर अफवाह फैलाने वालों पर भी नजर रखे हुए है।
गलता गेट में सोशल मीडिया के माध्यम से वाट्सअप ग्रुप से कोरोना के संबंध में भ्रामक प्रचार करने के मामले में पुलिस ने एक जने को गिरफ्तार किया है। वहीं धारा 144 का उल्लंघन करने पर पुलिस ने 6 जनों को पकड़ा हैं। उधर कर्फ्यू इलाके में मेडिकल सर्वे की टीमों की सुरक्षा के लिए दो एसडीआरएफ कंपनी तैनात की गई है।
पुलिस कमिश्नर आनंद श्रीवास्तव ने बताया कि गलता गेट में सोशल मीडिया पर भ्रामक प्रचार करने के मामले में पुलिस ने मोहल्ला बिल्लोचियान बांस बदनपुरा निवासी मोहम्मद मोईन को गिरफ्तार किया हैं। आरोपी कोरोना के संबंध में घर घर मेडिकल स्क्रीनिंग करने वाली सर्वे टीम के बारे में अफवाह और भ्रामक तथ्य प्रचारित कर लोगों को उकसाने के मैसेज भेज रहा था।

परकोटा को किया सेनेटाइज-
परकोटा क्षेत्र में चल रहे कर्फ्यू के दौरान सख्ती से पालना की जा रही है। पूरे परकोटा क्षेत्र को सेनेटाइज किया गया है। कर्फ्यू के दौरान दूध, सब्जी और खाद्य साम्रगी का ई रिक्शा के माध्यम से वितरण किया जा रहा है।

मेडिकल टीम के लिए दो एसडीआरएफ कंपनी तैनात-
कर्फ्यू इलाके में मेडिकल सर्वे टीमों के साथ सुरक्षा के लिए एक अति.पुलिस अधीक्षक, दो सहायक पुलिस आयुक्त, तीन पुलिस निरीक्षक सहित दो एसडीआरएफ कंपनी तैनात की गई है। कोरोना से प्रभावित इलाके में मेडिकल सर्वे टीमों की सुरक्षा के साथ-साथ स्वास्थय और चिकित्सा विभाग के कार्य निर्वाध रुप से जारी रखने के लिए जाप्ता उपलब्ध करवाया गया हैं।

ड्रोन से निगरानी
परकोटा क्षेत्र में ड्रोन से पूरी निगरानी रखी जा रही है। खासकर बाहर निकलने वाले लोगों और छतों पर घूमने वाले लोगों पर ड्रोन से नजर रखी जा रही है। ये ड्रोन कैमरे 500 मीटर ऊंचाई और दो किलोमीटर तक के क्षेत्र पर निगरानी रखने में सक्षम है। यह ड्रोन कैमरों का लाइव मॉनिटिरंग अभय कमाण्ड सेंटर में स्थापित कोरोना वार रुम द्वारा की जा रही है।

लॉक डाउन का उल्लंघन करने पर 427 अनाधिकृत वाहन जब्त
जयपुर शहर में लॉक डाउन की घोषणा के बाद से प्राइवेट और सावर्जनिक परिवहन के साधनों जैसे मिनी बस, बस, ऑटो टैक्सी और ई रिक्शा आदि पर प्रतिबंध लगाने के लिए 262 स्थानों पर पुलिस द्वारा नाकांबदी की जा रही है। तथा लॉक डाउन का उल्लंघन करते हुए पाए जाने पर जयपुर शहर में 427 वाहनों को जब्त किया गया। अब तक 4,622 वाहनों को ब्त किया जा चुका हैं।

धारा 144 का उल्लंघन करने पर 6 जने गिरफ्तार
शहर में पांच या पांच से अधिक लोगों के एक जगह इकट्ठा होने के प्रतिबंध के बावजूद धारा 144 का उल्लंघन किया जा रहा है। पुलिस ने शुक्रवार को छह जनों को गिरफ्तार कर किया है। गौरतलब है कि पुलिस इस मामले में अब तक 47 लोगों को गिरफ्तार कर चुकी हैं।

निर्भया स्क्वॉड ने बुजुर्गों की कुशलक्षेम पूछी
पुलिस कमिश्नरेट की निर्भया स्कवॉड टीम ने लॉक डाउन के दौरान सामाजिक सरोकारों की दिशा में कदम बढ़ाते हुए बुजुर्गों की कुशलक्षेम पूछी। अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त और निर्भया स्क्वॉड टीम की नोडल अधिकारी सुनीता मीना के नेतृत्व में दुर्गापुरा के पास स्थित प्रेम निकेतन वृद्धाश्रम में निर्भया स्क्वॉड टीम के साथ पहुंची और वहां रहने वाले बुजुर्गों को टीम के द्वारा किए जा रहे सामाजिक कार्यों के बारे में जानकारी दी। टीम ने बुजुर्गों को कोरोना संक्रमण से बचावके लिए उपयोग में लिए जाने वाले मॉस्क और सेनेटाइजर भी उपलब्ध करवाए। उनके खाने पीने और दवाईयों के बारे में जानकारी ली। टीम ने कुशलक्षेम पूछी तो बुजुर्गों की खुशी का ठिकाना नहीं रहा। उन्होंने पुलिस टीम की प्रशंसा की। टीम ने बुजुर्गों को बताया कि अगर उन्हें कोई परेशानी आती है तो वह 100 नम्बर डायल करे तो पुलिस उनकी सेवा में बिना देर किए उपस्थित हो जाएगी।

Lalit Tiwari Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned