scriptArtificial intelligence is increasingly being used in healthcare | स्वास्थ्य सेवा में तेजी से इस्तेमाल हो रहा आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस | Patrika News

स्वास्थ्य सेवा में तेजी से इस्तेमाल हो रहा आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस

यूके की प्रमुख शोधकर्ता और स्वास्थ्य देखभाल विशेषज्ञ डॉ. नेहा शर्मा ने कहा है कि बॉयोमेडिकल इंजीनियरिंग और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस-आधारित मॉडल में राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय विशेषज्ञों के साथ मिलकर काम कर रहे।

जयपुर

Published: May 30, 2022 08:25:59 pm

यूके की प्रमुख शोधकर्ता और स्वास्थ्य देखभाल विशेषज्ञ डॉ. नेहा शर्मा ने कहा है कि बॉयोमेडिकल इंजीनियरिंग और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस-आधारित मॉडल में राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय विशेषज्ञों के साथ मिलकर काम कर रहे। आरोग्यम इंग्लैंड के आयुर्वेद चिकित्सक एवं शोधकर्ता इंग्लैंड में आयुर्वेद और योग-आधारित उपचार पद्धतियों पर वैज्ञानिक साक्ष्य को स्थापित कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि यूके में शोधकर्ताओं की ओर से पहले बनाया गया एमएल/एआई-आधारित मॉडल आयुर्वेद से इलाज किए गए हल्के से मध्यम कोविड—19 रोगियों के डेटा पर आधारित था। यह बात उन्होंने भारतीय आयुर्वेद के लिए आर्टिफीशियल इंटेलिजेंस आधारित कंप्यूटिंग मॉडल विकसित करने के लिए आरोग्यम इंग्लैंड के शोधकर्ताओं और एसोसिएशन आयुर्वेद अकादमी के चिकित्सकों के साथ एक गोलमेज सम्मेलन में कही।

Artificial intelligence is increasingly being used in healthcare

कोविड-19 उपचार में आयुर्वेद की प्रभावकारिता
डाॅ. नेहा ने कहा कि ब्रिटेन मॉडल हल्के से मध्यम मामलों के कोविड-19 उपचार में आयुर्वेद की प्रभावकारिता का अनुमान लगाने में सक्षम था। प्रोटोकॉल आयुष-उपचार प्रोटोकॉल पर आधारित था और 2020-2021 में आरोग्यम यूके और वारविक विश्वविद्यालय की ओर से निष्पादित किया गया था। कंप्यूटर वैज्ञानिक और डिजिटल डिप्लोमैट डॉ. डी पी शर्मा ने कहा कि आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (मशीन लर्निंग, डीप लर्निंग) और बिग डेटा एनालिटिक्स स्वास्थ्य सेवा में तेजी से इस्तेमाल हो रहे हैं। स्वास्थ्य सेवा प्रदाता साक्ष्य आधार को बढ़ाने के लिए उनका उपयोग कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि एलोपैथी बनाम आयुर्वेद के साक्ष्य-आधारित हस्तक्षेप या उपचार का तुलनात्मक विश्लेषण वैश्विक स्तर पर आयुर्वेद को एक नया दृष्टिकोण और समर्थन प्रदान करेगा।

यूं होता है क्राॅस सत्यापन
डॉ. शर्मा ने कहा कि समान रोगों के लिए एलोपैथी और आयुर्वेद दोनों के हस्तक्षेप से एकत्रित डेटा यदि मशीन लर्निंग, डीप लर्निंग या फ्यू-शॉट लर्निंग का उपयोग करके प्रशिक्षित कंप्यूटिंग सिस्टम के जरिए विश्लेषण किया जाता है। इससे बीमारी एवं डाटा दोनों का क्रॉस-सत्यापन हो जाता है। उन्होंने आगे कहा कि हम एक कन्वर्जिंग दुनिया में हैं और भारतीय योग और आयुर्वेद दुनिया को अन्य दवा प्रणालियों के साथ कन्वर्ज कर सकते हैं। इसके लिए वैध डेटा साक्ष्य की आवश्यकता होती है, जिसे विश्लेषण के लिए स्केल किया जा सकता है। आयुर्वेद आधारित हस्तक्षेप और मॉडलिंग के लिए मशीन लर्निंग को लागू करने से आधुनिक वैज्ञानिक उपायों पर एक पारंपरिक उपचार पद्धति स्थापित की जा सकती है।

गंभीर मुद्दों पर होगी चर्चा
डॉ. नेहा ने कहा कि गोलमेज सम्मेलन में एक अन्य अध्ययन लॉग-कोविड था, जो कि यूके में एक गंभीर मुद्दा है पर भी चर्चा की गई। कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी यूके के जीनोम वैज्ञानिक डॉ. मदन ने कहा कि ब्रिटिश संसद जल्द ही अकादमिक यूके की ओर से उठाए गए गंभीर मुद्दों और प्रबंधन के तरीकों पर चर्चा करने वाली है। उन्होंने कहा कि आयुर्वेद पर आधारित ग्रंथ और शास्त्र मददगार हो सकते हैं। वर्ष 2021 में आरोग्यम यूके की ओर से शुरू की गई सामुदायिक सहायता परियोजना योग और आयुर्वेद के उपचार के तौर-तरीकों के साथ लंबे कोविड रोगियों का इलाज कर रही है। डॉ. नेहा शर्मा ने विभिन्न डेटा विज्ञान तकनीकों के माध्यम से अभ्यास-आधारित डेटा का उपयोग करने की क्षमता पर चर्चा की, जो आयुर्वेद के साथ पोस्ट कोविड की इलाज क्षमता दिखा सकती है। यूके में एक और बड़ा मुद्दा पुरानी दर्द की स्थिति है। आरोग्यम यूके के फाइब्रोमायल्जिया और क्रोनिक थकान सिंड्रोम के लिए 12-चरणीय कार्यक्रम ने 6 महीनों में एक हजार से अधिक रोगियों पर काम किया है।

तीन राज्यों के डेटा
डॉ. कृतिका पांडे ने डॉ. डी.पी. शर्मा के साथ सेकेंडरी डाटा विश्लेषण और नैतिक चिंताओं के प्रबंधन की क्षमता पर चर्चा की। डॉ. वेंकट जोशी ने आयु-मनोचिकित्सा देखभाल परियोजना से अपने हालिया अनुभव को जोड़ा, जहां आयुर्वेद को मानसिक स्वास्थ्य में एकीकृत किया गया था। उन्होंने कहा कि मुख्य रूप से भारत-यूके साझेदारी पहल में आपातकालीन मनोरोग देखभाल में आयुर्वेद इंग्लैंड में अधिक कारगर हो सकता है। माध्यमिक विश्लेषण के रूप में शामिल करने के लिए 3 राज्यों के डेटा आपातकालीन देखभाल में संभावित लाभों का विवरण प्रदान कर सकते हैं।

यह करेंगे टीम का नेतृत्व
समिट में यह निर्णय किया गया कि जयपुर के डॉ. डीपी शर्मा आरोग्यम(यूके) की डॉ. नेहा शर्मा के साथ मिलकर एसोसिएशन आयुर्वेद अकादमी और यूरोपीय आयुर्वेद अकादमी के पार्टनर नेटवर्क के लिए डेटा विश्लेषण और शोधकर्ताओं की एआई टीम का नेतृत्व करेंगे। प्रभु शाह(आरोग्यम-पतंजलि यूके), डॉ. रेम्या नायर(आरोग्यम यूके-नटर्ज यूके) और मरीन (यूरोपीय आयुर्वेद अकादमी) ने पुरानी बीमारियों, महिलाओं के स्वास्थ्य क्षेत्रों और मानसिक स्वास्थ्य निदान संभावनाओं पर चर्चा में भाग लिया। डॉ नेहा शर्मा और डॉ.वेंकट नारायण जोशी ने आयुर्वेद में साक्ष्य के डेटा और प्रौद्योगिकी के कन्वर्जेन्स के लाभों की खोज पर इस वैश्विक शिखर सम्मेलन को उत्प्रेरित किया।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

कलकत्ता हाईकोर्ट की कड़ी टिप्पणी, कहा - 'पश्चिम बंगाल में बिना पैसे दिए नहीं मिलती सरकारी नौकरी'Jammu-Kashmir News: शोपियां में फिर आतंकी हमला, CRPF के बंकर पर ग्रेनेड अटैकओडिशा के 10 जिलों में बाढ़ जैसे हालात, ODRAF और NDRF की टीमों को किया गया तैनातकैबिनेट विस्तार के बाद पहली बार नीतीश कैबिनेट की बैठक, इन एजेंडों पर लगी मुहरशिमला में सेवाओं की पहली 'गारंटी' देने पहुंचेगी AAP, भगवंत मान और मनीष सिसोदिया कल हिमाचल प्रदेश के दौरे परममता बनर्जी के ट्विटर प्रोफाइल में गायब जवाहर लाल नेहरू की तस्वीर, बरसी कांग्रेसमुंबई पुलिस की बड़ी कार्रवाई, गुजरात के भरूच में पकड़ी ‘नशे’ की फैक्ट्री, 1026 करोड़ के ड्रग्स के साथ 7 गिरफ्तारकेंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह के मानहानि के बयान पर मंत्री जोशी का पलटवार, कहा-दम है तो करें मानहानि
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.