आसाराम ने अब सोशल मीडिया को किया हाइजैक, सफेद दाढ़ी वाले बाबा की रिहाई के लिए समर्थकों ने चला दिया ​ये अभियान

आसाराम ने अब सोशल मीडिया को किया हाइजैक, सफेद दाढ़ी वाले बाबा की रिहाई के लिए समर्थकों ने चला दिया ​ये अभियान

Nidhi Mishra | Publish: Apr, 17 2018 12:45:14 PM (IST) Jaipur, Rajasthan, India

कठुआ रेप केस आरोपियों की फांसी के लिए लोग कर रहे रैलियां, इधर आसाराम की रिहाई चाह रहे समर्थक

 

जयपुर। Self-styled godman Asaram Bapu पर चल रहे यौन शोषण मामले में आगामी 25 अप्रेल को फैसला आना है। इससे कुछ दिनों पहले ही आसाराम ने एक बार फिर सोशल मीडिया को हाइजैक कर लिया है। सोशल मीडिया पर आसाराम की इनोसेंस पर फर्जी दावे किए जा रहे हैं। समर्थकों ने सोशल मीडिया पर आरोपी को मुक्त करने के लिए देश के कानून और खुद के विवेक के खिलाफ ही अभियान छेड़ रखा है। आज 77वें साल में प्रवेश कर रहा सफेद दाढ़ी वाला बाबा अक्सर प्रवचनों में मन की शुद्धता पर चीख चीख कर बोला करता था। इसी कथित बाबा पर 2013 में एक नाबालिग से यौन शोषण का आरोप है। आसाराम पर एक और महिला ने भी ऐसे ही आरोप लगाए हैं। बहरहाल बाबा अभी जोधपुर सेंट्रल जेल में हैं और दिन रात अपने बाहर निकलने की उम्मीद में रहते हैं।


दुर्भाग्यवश जेल के बाहर आसाराम के समर्थक शांत नहीं रह पा रहे और ना ही ये स्वीकार कर रहे हैं कि उनके 'आदरणीय' बलात्कारी हैं। इसकी नजीर देखी गई सोशल मीडिया पर, जहां बेतुकी संख्या में ट्विटर यूजर्स ने आसाराम को रिहा करने का मुद्दा उठाया, क्योंकि आसाराम के खिलाफ कोई सबूत नहीं मिले हैं। वहीं कठुआ रेप केस की ही बात की जाए तो लोग आरोपियों की सजा के लिए रैलियां कर रहे हैं, कैंडल मार्च निकाल रहे हैं, दूसरी तरह रेप के ही चार्जेस लगे होने के बावजूद आसाराम कर रिहाई की उम्मीद लगाई जा रही है। देखें एक बानगी कैसे सोशल मीडिया पर आसाराम की रिहाई के लिए अभियान छेड़ा गया है... ट्विटर पर #AsaramBapujiIsFramed दो दिन से ट्रेंड कर रहा है।

READ: आसाराम पर फैसले से पहले जानें वो करतूत जिसने पहुंचाया सलाखों के पीछे, बचने के लिए कर डाले थे ऐसे कारनामे

READ: आसाराम पर लगे थे इस तरह के आरोप— भक्तों के चढ़ाए नारियल से मिठाई बना कर बेच देता था बाबा

 

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned