औरैया हादसे पर सीएम अशोक गहलोत ने जताया शोक, ​अखिलेश बोले- ये हत्या है

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने उत्तर प्रदेश के औरैया में सड़क दुघर्टना में करीब दो दर्जन प्रवासी श्रमिकों की मौत पर गहरा शोक व्यक्त किया है।

By: santosh

Updated: 16 May 2020, 03:04 PM IST

जयपुर। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने उत्तर प्रदेश के औरैया में सड़क दुघर्टना में करीब दो दर्जन प्रवासी श्रमिकों की मौत पर गहरा शोक व्यक्त किया है। गहलोत ने सोशल मीडिया के जरिए इस दुर्घटना पर दुख जताते हुए कहा कि यह जानकर गहरा दुख हुआ कि औरैया में दुर्घटना में बड़ी संख्या में प्रवासी श्रमिकों की जान चली गई और कई लोग घायल हो गए। उन्होंने शोक संतप्त परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त की तथा ईश्वर से दिवंगत आत्माओं को शांति प्रदान एवं घायलों के जल्द ठीक होने की प्रार्थना की।

 

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की उपाध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने भी इस हादसे पर गहरा दुख जताया और कहा कि उत्तर प्रदेश के औरैया में हुए भीषण सड़क हादसे में करीब दो दर्जन मजदूरों की मृत्यु का समाचार सुनकर बहुत दुख हुआ। उन्होंने ईश्वर से दिवंगत आत्माओं की शांति तथा घायलों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना की तथा शोकाकुल परिजनों के प्रति गहरी संवेदना प्रकट की।

 

समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष अखिलेश यादव ने उत्तर प्रदेश के औरैया में दिल दहला देने वाली घटना में 24 मजदूरों की मृत्यु पर दुख व्यक्त करते कहा कि सपा मृतकों के परिजनों को एक लाख रुपए की सहायता देगी। अखिलेश ने भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) सरकार से मृतकों के परिजनों को दस लाख रुपए दिए जाने की मांग करते हुए कहा ऐसे हादसे मजदूरों की हत्या है। भाजपा को इसकी नैतिक जिम्मेदारी लेनी चाहिए। कुछ लोग सब कुछ जानकर, सब कुछ देखकर मौन साधे है। इसमें ऐसे है जो अपना घर चलाते है।

उत्तर प्रदेश में औरैया जिले के काेतवाली सदर क्षेत्र में शनिवार अहले सुबह दो वाहनों की भिड़ंत में 24 प्रवासी श्रमिकों की मृत्यु हो गई जबकि 35 अन्य गंभीर रूप से घायल हो गए। जिलाधिकारी अभिषेक सिंह ने बताया कि तड़के ढाई से तीन बजे के बीच यह हादसा चिरूहली- मिहौली गांव के बीच हुआ जब एक चूना लदा ट्राला सड़क किनारे खड़े एक मिनी ट्रक से टकरा कर पलट गया। जिससे उसमें सवार श्रमिक चूने की बोरियों के नीचे दब गए। इस हादसे में 24 की मौके पर ही मृत्यु हो गई। हताहतों में शामिल ज्यादातर श्रमिक बिहार, झारखंड और पश्चिम बंगाल के निवासी हैं, जो दिल्ली और राजस्थान के भरतपुर से वापस अपने घरों को लौट रहे थे।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned