राहुल गांधी से मिलने दिल्ली पहुंचे गहलोत-पायलट, इधर एक और MLA के इस्तीफे से हड़कंप

Rahul Gandhi से मिलने दिल्ली पहुंचे Ashok Gehlot - Sachin Pilot, इधर एक और MLA के इस्तीफे से हड़कंप

By: nakul

Published: 01 Jul 2019, 12:39 PM IST

जयपुर।

लोकसभा चुनाव ( Lok Sabha Election 2019 ) में हुई करारी हार और फिर अपने पद से इस्तीफा देने के बाद सोमवार को राहुल गांधी ( Congress President Rahul Gandhi ) पहली बार कांग्रेस शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों से साथ बैठक करेंगे। बैठक में राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ( Rajasthan Chief Minister Ashok Gehlot ) के अलावा मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ, पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह, छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और पुडुचेरी के मुख्यमंत्री वी. नारायणसामी भी शामिल होंगे।

 

वहीं राहुल गांधी के तुगलक लेन रोड स्थित आवास पर शाम पांच बजे से होने वाली इस बैठक में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के साथ प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष और डिप्टी सीएम सचिन पायलट भी शामिल होंगे। ऐसे में गहलोत-पायलट दोनों ही दिल्ली रहेंगे। दरअसल, कई राज्यों में कांग्रेस की सरकार होने के बावजूद वहां पार्टी की करारी हार हुई है, जिससे राहुल गांधी खासे नाराज चल रहे हैं। पंजाब को छोड़कर सभी कांग्रेस शासित राज्यों में कांग्रेस को करारी हार का सामना करना पड़ा था।

 

कारणों पर होगी चर्चा
बताया जा रहा है कि कांग्रेस शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक कर राहुल गांधी सरकार होने के बावजूद इन राज्यों में मिली हार के कारणों को लेकर मंथन करेंगे। साथ ही हिंदी भाषी राज्यों में मजबूत संगठन होने के बावजूद पिछडऩे की क्या वजह रही, इस पर चर्चा करेंगे। वहीं चर्चा यह भी है कि बैठक में कांग्रेस शासित राज्यों के मुख्यमंत्री राहुल गांधी से उनके पद पर बने रहने के लिए उनकी मनुहार भी करेंगे।

 

... इधर, विधायकों के इस्तीफ़ा देने का सिलसिला जारी
राहुल गांधी की उलाहना के बाद कांग्रेस पार्टी में वरिष्ठ नेताओं का इस्तीफा देने का सिलसिला जारी है। इस्तीफे की ताज़ा खबर कर्नाटक से आई है। यहां विजयनगर से कांग्रेस विधायक आनंद सिंह ने सोमवार को अपने पद से इस्तीफा दे दिया। इसे 13 माह पुरानी जनता दल (सेक्युलर)-कांग्रेस बठबंधन सरकार के लिए बड़ा झटका माना जा रहा है।

 

आधिकारिक सूत्रों के अनुसार सिंह ने विधानसभा अध्यक्ष रमेश कुमार को अपना इस्तीफा सौंप दिया। कर्नाटक में मचे सियासी ड्रामा और ज्यादा तेज होने के आसार नजर आ रहे हैं।

 

सूत्रों के अनुसार कांग्रेस और जद (एस) के कुछ और विधायकों का इस्तीफा देने की योजना है। इससे राज्य की एचडी कुमारस्वामी नीत जद एस -कांग्रेस सरकार की परेशानियां बढ़ सकती हैं। पिछले माह कर्नाटक जद (एस) प्रमुख एच. विश्वनाथ ने लोकसभा चुनाव में पार्टी की हार की नैतिक जिम्मेदारी लेते हुए पद से इस्तीफा दे दिया था।

 

बताया जाता है कि विश्वनाथ उपेक्षा किए जाने और पार्टी के महत्वपूर्ण फैसलों में विश्वास में नहीं लिए जाने को लेकर कथित रूप से नाखुश थे। वह गठबंधन सरकार के कामकाज को लेकर भी कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सिद्धरमैया से सार्वजनिक तौर पर उलझ गए थे। लोकसभा चुनाव में कर्नाटक में भारतीय जनता पार्टी का प्रदर्शन बहुत अच्छा रहा। पार्टी को 28 में से 25 सीटें मिलीं। सत्तारूढ़ जद(एस) और कांग्रेस के खाते में सिर्फ एक-एक सीट गई थीं।

Show More
nakul Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned