चौथे दिन भी जारी रहा संयुक्त अभिभावक संघ का जागरुकता अभियान

--- मानसरोवर के ज्ञान आश्रम, स्प्रिंगफील्ड, सेंट टेरेसा, सेंट एंसलम, मॉडर्न स्कूलों के अभिभावकों से हुआ संवाद
--- कल सांगानेरी गेट पर होगा संवाद
जब तक वैक्सीन नहीं, तब तक स्कूल नहीं खोले सरकार

By: Rakhi Hajela

Published: 24 Dec 2020, 12:09 AM IST


जयपुर। शिक्षा में सुधार को लेकर लगातार संघर्ष कर रहे संयुक्त अभिभावक संघ ने राजस्थान हाईकोर्ट के फैसले को लेकर अभिभावकों में जागरुकता अभियान का आगाज किया है। पिछले चार दिनों से जारी इस अभियान से अब तक डेढ़ हजार से अधिक अभिभावक फिजिकल जुड़ चुके हैं और करीबन 1 लाख से अधिक अभिभावकों को सोशल मीडिया से जोड़कर जाग्रत किया जा रहा है।
उपाध्यक्ष मनोज शर्मा और मंत्री मनोज जसवानी ने बताया कि बुधवार को ज्ञान आश्रम, स्प्रिंगफील्ड, एसबीओआई, सेंट एंसलम, मॉडर्न और सेंट टेरेसा स्कूलों के सक्रिय अभिभावक जुटे और संवाद स्थापित किया। इस दौरान एडवोकेट अमित छंगाणी ने कोर्ट आदेश सहित अभिभावकों मिले कानूनी अधिकारों की जानकारी से अवगत करवाया
जब तक वेक्सीन नही तब तक कोई स्कूल नही पर अमल करें सरकार
प्रवक्ता अभिषेक जैन बिट्टू ने कहा कि राज्य सरकार से अपील की है कि वह स्कूलों को खोलने पर जो विचार कर रही है वह जब तक वेक्सीन नहीं आ जाती है तब तक के लिए त्याग दें। पूर्व में भी मुख्यमंत्री ने मेघालय, आंध्र प्रदेश, मिजोरम सहित विभिन्न राज्यों द्वारा स्कूल खोलकर बन्द करने का हवाला देते हुए 31 दिसम्बर तक बंद करने के आदेश दिए थे। दिल्ली सरकार ने पहले ही जब तक वेक्सीन नहीं तब तक कोई स्कूल नहीं की घोषणा कर चुकी है। मध्य प्रदेश सरकार ने कक्षा 1 से 8 तक के बच्चों के सभी स्कूल 31 मार्च तक बंद करने के आदेश दे दिए हैं। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार से अपील है कि वह प्रदेश में स्कूलों को खोलने का विचार त्याग दे, अन्यथा अभिभावकों को अपने बच्चों की सुरक्षा और संरक्षण के लिए सड़कों पर उतना पड़ेगा।

Rakhi Hajela Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned