Barmer Pandal Collapse: सीएम गहलोत को देखते ही फूट पड़ी मृतक परिजनों की रुलाई, मुख्यमंत्री ने बंधाया ढांढस

Barmer Pandal Collapse: सीएम गहलोत को देखते ही फूट पड़ी मृतक परिजनों की रुलाई, मुख्यमंत्री ने बंधाया ढांढस

Nakul Devarshi | Updated: 24 Jun 2019, 11:36:42 AM (IST) Barmer, Barmer, Rajasthan, India

Barmer Pandal Collapse, CM Ashok Gehlot condolence to people

बाड़मेर।

बाड़मेर के जसोल में रामकथा के दौरान टेंट गिरने से हुए हादसे ( Barmer Pandal Collapse ) में मृतक संख्या बढ़कर 15 हो गई है। सोमवार को एम्स जोधपुर ( AIIMS Jodhpur ) में अस्पताल में उपचार के दौरान एक घायल ने भी दम तोड़ दिया। मृतक की पहचान पोकरराम घांची के तौर पर हुई है। इस बीच दर्दनाक हादसे के मृतक परिवारों को ढांढस बंधवाने और अस्पताल में भर्ती घायलों की कुशलक्षेम जानने के लिए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ( Chief Minister Rajasthan Ashok Gehlot ) भी जसोल पहुंचे। उनके साथ कई नेता भी मौजूद रहे।

 

जसोल से सीएम गहलोत बालोतरा और जोधपुर भी जाएंगे जहां सरकारी और निजी अस्पतालों में घायलों का इलाज चल रहा है। मुख्यमंत्री अशोक का दोपहर बाद जयपुर लौटने का कार्यक्रम है।

 

कैलाश चौधरी भी पहुंचे अस्पताल, पूछी कुशलक्षेम
इस घटना के बाद केन्द्रीय राज्यमंत्री कैलाश चौधरी भी आज सुबह जसोल पहुंचे, जहां उन्होंने अस्पताल पहुंच कर घायलों की कुशलक्षेम पूछी। गौरतलब है कि बाड़मेर के जसोल में रविवार को रामकथा के दौरान तेज आंधी और बारिश के बाद पांडाल गिर गया था और भगदड़ और करंट की चपेट में आने से कई श्रद्धालुओं की मौत हो गई थी। घटना के बाद जिला प्रशासन ने घायलों को बालोतरा और जोधपुर के अस्पतालों में भर्ती कराया था।

 

सीएम को देखते ही मृतक परिजनों के फूट पड़े आंसू
जसोल में पांडाल गिरने की घटना के बाद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत सोमवार सुबह जसोल पहुंचे। वे हेलीपेड से सीधे हताहतों के घर पहुंचे। यहां उन्होंने शोक संतप्त परिवार को सांत्वना दी। इस दौरान मुख्यमंत्री को देख परिजनों की रुलाई फूट पड़ी। मुख्यमंत्री ने भी दुख की इस घड़ी में सरकार की ओर से संवेदना व्यक्त करते हुए कहा कि पूरा प्रदेश इस दुख के समय इन परिवारों के साथ है।

 

इस दौरान मुख्यमंत्री ने घटना की जानकारी भी ली।बाड़मेर के प्रभारी मंत्री डॉ. बीडी कल्ला, चिकित्सा मंत्री डॉ. रघु शर्मा, विधायक मदन प्रजापत, राजस्व मंत्री हरीश चौधरी, सभापति नगरपरिषद बालोतरा रतन खत्री सहित कांग्रेस के आला जनप्रतिनिधि भी उनके साथ थे।

 

घायलों का चल रहा इलाज
हादसे के 38 घायलों का उपचार बालोतरा अस्पताल में चल रहा है। जबकि 7 लोग जोधपुर के अस्पतालों में भर्ती बताये जा रहे हैं।

 

संभागीय आयुक्त करेंगे हादसे की जांच
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बाड़मेर जिले के जसोल कस्बे में पाण्डाल गिरने से हुए हादसे के लिए जोधपुर संभागीय आयुक्त बीएल कोठारी को जांच के निर्देश दिए हैं। गहलोत ने इस हादसे की जानकारी मिलते ही प्रशासन, पुलिस, आपदा प्रबन्धन एवं चिकित्सा अधिकारियों को राहत एवं बचाव कार्यों एवं उपचार के लिए उचित निर्देश दिए। उन्होंने हादसे के मृतकों के आश्रितों को 5-5 लाख रूपये की सहायता राशि देने के निर्देश प्रदान किए हैं। हादसे में घायलों को भी अधिकतम 2 लाख रूपये की सहायता राशि दी जाएगी।

 

गहलोत ने इस दुर्घटना के मृतकों के प्रति गहरा शोक व्यक्त किया है और घायलों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना की है। उन्होंने कहा कि संकट की इस घड़ी में राज्य सरकार पीड़ितों के साथ है और उनकी हरसंभव मदद की जाएगी। उन्होंने दिवंगतों की आत्मा की शांति और परिजनों को यह दुख सहन करने की शक्ति प्रदान करने के लिए ईश्वर से प्रार्थना भी की है।

 

मुख्यमंत्री ने रविवार शाम मुख्यमंत्री कार्यालय में उच्चाधिकारियों के साथ हुई आपात बैठक में जसोल में हुए हादसे के बाद राहत एवं बचाव कार्यों की समीक्षा की। उन्होंने पीड़ितों को जल्द से जल्द राहत देने और निःशुल्क उपचार के लिए जोधपुर संभागीय मुख्यालय से अतिरिक्त चिकित्सा टीमों, नर्सिंग स्टाफ, दवाइयाेंं की उपलब्धता सुनिश्चित करने तथा पुलिस, प्रशासनिक सहायता एवं आपदा प्रबन्धन व्यवस्था कराने के निर्देश दिये।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned