कैल्शियम से भरपूर होता है बथुआ

बथुआ से हमें सेहत संबंधी बहुत से फायदे हासिल होते हैं

जोड़ों के दर्द में आराम
बथुआ के 10 ग्राम बीजों को करीब 200 मिलिलीटर पानी में उबालें। 50 मिलिलीटर बचने पर गर्मागर्म पीएं। ऐसा एक महीने तक सुबह-शाम करने से जोड़ों के दर्द में लाभ होता है। इसकी ताजा पत्तियों को पीसकर हल्का गर्म करें और दर्द वाले स्थान पर बांधें। इससे भी दर्द में आराम मिलता है।

कैल्शियम
अधिकतर कैल्शियम के लिए हम दूध पीते है, जबकि बथुआ में 309 मिलीग्राम कैल्शियम होता है। बथुए में अमीनो एसिड की मात्रा अधिक होने की वजह से यह नई कोशिकाओं को बनाने और उसे रिपेयर करने में मदद करती है।

एनीमिया में फायदा
बथुआ में आयरन व फोलिक एसिड होता है। करीब डेढ़ माह तक सब्जी बनाकर खाने या इसका 15-20 मिलिलीटर (करीब 4 चम्मच) रस सुबह-शाम लेने से खून की कमी की समस्या दूर होती है।

मुंह के छालों से राहत
बथुआ के पत्ते मुंह के छाले को कम करते हंै। बथुए को पानी में उबालकर उसके पानी से सिर धोने पर बालों में मोइस्चराइजर बढ़ता है और बालों को जू से भी मुक्ति मिलती है। बथुआ दांतों की समस्याओं से भी छुटकारा दिलाता है, मसलन दांत दर्द, मुंह में दुर्गंध, मसूड़ों की बीमारियां आदि।

फाइबर की प्रचुरता
इसमें पानी की मात्रा और फाइबर भी अधिक होता है। यही वजह है कि पाइल्स और कब्ज में भी राहत मिलती है। बथुए में कम मात्रा में कैलोरी होने की वजह से ये सभी के लिए भी फायदेमंद होता है।

Chand Sheikh Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned