बीएड कॉलेज नहीं दे रहे स्टाफ की सूचना, कई जगहों पर फर्जी स्टाफ की शिकायत

www.patrika.com/rajasthan-news

By: MOHIT SHARMA

Published: 20 Jul 2018, 10:53 AM IST

Jaipur, Rajasthan, India

जयपुर। प्रदेशभर के बीएड कॉलेज में हो रहे फर्जीवाड़ों को रोकने की कॉलेज शिक्षा विभाग की कोशिश नाकाम साबित हो रही है। आयुक्त कॉलेज शिक्षा ने इनकी आए दिन शिकायतें मिलने पर करीब 3 माह पहले सभी बीएड कॉलेजों को उनकी वेबसाईट बनाने के निर्देश दिए थे, लेकिन अभी तक उस पर काम होता नहीं दिख रहा है। हालात ये हैं प्रदेश के अधिकांश बीएड कॉलेजों ने अभी तक कॉलेज शिक्षा विभाग के आदेशों की पालना ही नहीं की है।
गौरतलब है कि प्रदेश में करीब 895 बीएड कॉलेज हैं, इनमें से 145 कॉलेज जयपुर जिले हैं। आए दिन इन कॉलेजों की शिकायत कॉलेज शिक्षा विभाग को मिलती है, जिसमें अधिकांश शिकायतें स्टाफ की होती हैं। जानकारी के अनुसार कॉलेजों में स्टाफ की सूचना फर्जी दी जा रही है। कई कॉलेजों में स्टाफ की सूचना सिर्फ खानापूर्ति ही है। जबकि उन्ही कर्मचारियों में कई कर्मचारी दूसरे स्थान पर भी काम कर रहे हैं।

ये देनी थी सूचना
कॉलेजों में अपनी वेबसाइट पर महाविद्यालय की आधारभूरत संरचना से संबंधित दस्तावेज, महाविद्यालय में उपलब्ध कक्षों की संख्या, प्रोगशाला, माप व चित्र, संचालित कोर्स में नामांकित छात्रों की संख्या, कुल स्वीकृत सीट आदि की सूचना देनी है।
एनसीटीई रेगुलेशन 2014 के नियमानुसार संबंधित विश्वविद्यालय से अनुमोदित शैक्षणिक स्टॉफ एवं अशैक्षणिक स्टॉफ की सूची देनी है।

ये सूचना भी जरूरी
कॉलेजों को कर्मचारी का नाम और फोटो, पिता का नाम, जन्मतिथि, विषय, क्वालिफिकेशन, नेट, सेट, पीएचडी, डेट आॅफ ज्वाइनिंग, स्थाई व अस्थाई और एम्पलाई आईडी नंबर लिखना होगा। कॉलेजों ने यह सूचना तो दी है, लेकिन सिर्फ कर्मचारी का नाम ही बताया है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned