'संस्कृति-धार्मिक ग्रंथों को आईटी से जोड़ शोध करने से विश्व के लिए कल्याणकारी'

राजस्थान विधानसभा अध्यक्ष डॉ. सी.पी. जोशी (Dr. C.P. Joshi) ने विप्र फाउंडेशन की सेंटर फॉर एक्सीलेंस स्थापना की सोच को सराहनीय कदम बताते हुए कहा कि कोरोना महामारी के दौर में अमेरिका जैसे शक्तिशाली राष्ट्र कुछ ना कर सके। सनातन संस्कृति सबको याद आई।

By: Gaurav Mayank

Published: 21 Aug 2021, 12:22 AM IST

जयपुर। राजस्थान विधानसभा अध्यक्ष डॉ. सी.पी. जोशी (Dr. C.P. Joshi) ने विप्र फाउंडेशन की सेंटर फॉर एक्सीलेंस (Center for Excellence) स्थापना की सोच को सराहनीय कदम बताते हुए कहा कि कोरोना महामारी के दौर में अमेरिका जैसे शक्तिशाली राष्ट्र कुछ ना कर सके। सनातन संस्कृति सबको याद आई। उन्होंने कहा कि सनातन संस्कृति से प्राप्त शिक्षा, पर्यावरण, आहार-विहार और आचार-विचार को देश-दुनिया में पुन: स्थापित करने की आवश्यकता है और ये कार्य सेंटर फॉर एक्सीलेंस के माध्यम से किया जा सकता है। संस्कृति और धार्मिक ग्रंथों में जो छिपा है, इसको आईटी से जोड़कर शोध किया जाए तो यह संपूर्ण जगत के लिए कल्याणकारी साबित हो सकता है।

डॉ. जोशी ने शुक्रवार को मानसरोवर स्थित विप्र फाउंडेशन (Vipra foundation) के सेंटर फॅार एक्सीलेंस (Center for Excellence Mansarovar) भूमि पूजन समारोह को संबोधित किया। वहीं, सांसद रामचरण बोहरा (MP Ramcharan Bohra) ने इस केंद्र के कौशल विकास के लिए सांसद कोष से 46 लाख रुपए की राशि देने की घोषणा की। इस दौरान आयोजन में मौजूद सरकारी मुख्य सचेतक डॉ. महेश जोशी (Mahesh Joshi) ने ज्यादा से ज्यादा योगदान देने का भरोसा दिलाया तथा कहा कि वे एक परिवार के सदस्य की तरह संस्था से जुड़े हुए हैं।

भगवान परशुराम के गूंजे जयकारे
संत श्यामशरण देवाचार्य श्रीजी महाराज सलेमाबाद के सान्निध्य में हुए इस भूमि पूजन समारोह की पहली शिला महाराज ने ही रखी। महाराज ने वैदिक पीठ की स्थापना निम्बार्कचार्य श्रीजी महाराज के नाम से स्थापित करने की घोषणा भी की। भूमि पूजन में संस्था के मुख्य सरंक्षक रायपुर के विधायक सत्यनारायण शर्मा, विप्र फाउंडेशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष महावीर प्रसाद शर्मा, विप्र फाउंडेशन जोन-1 के अध्यक्ष राजेश कर्नल, सुनीता शर्मा, के.के. शर्मा, भंवर पुरोहित, अरविंद व्यास, वेदप्रकाश उपाध्याय ने यजमान के रूप में पं. धीरज भारद्वाज के आचार्यात्व में शिला पूजन किया। इस मौके पर भगवान परशुराम के जयकारे गूंज उठे।

देशभर से आए पदाधिकारी
समारोह में विधायक धर्मनारायण जोशी, ममता शर्मा, बृजकिशोर शर्मा, राजस्थान अधीनस्थ कर्मचारी चयन बोर्ड के अध्यक्ष हरिप्रसाद शर्मा, एडीजी लक्ष्मण गौड़, सुमन शर्मा, संरक्षक पशुपति नाथ शर्मा आदि मौजूद थे। भूमि पूजन समारोह में शामिल होने देशभर से विप्र फाउंडेशन के पदाधिकारी भी जयपुर आए। उनमें संस्था के संस्थापक संयोजक सुशील ओझा, श्रीकिशन शर्मा, शंकरलाल शर्मा, मुकेश दाधीच, एसएन श्रीमाली, भरतराम तिवाड़ी, डॉ. सुनील शर्मा, चंद्रकांता राजपुरोहित आदि थे। समारोह का संचालन जयपुर जोन के महामंत्री सतीश शर्मा ने किया।

Show More
Gaurav Mayank
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned