टाइटल बदलने के चक्कर में एक डेढ़ साल तक जनता निशुल्क इलाज से वंचित रही-पूनियां

भाजपा प्रदेशाध्यक्ष डॉ. सतीश पूनिया ने आयुष्मान भारत महात्मा गांधी राजस्थान स्वास्थ्य बीमा योजना की शुरुआत पर सरकार को घेरा है। उन्होंने आरोप लगाया है कि राजस्थान में गहलोत सरकार ने भामाशाह कार्ड को बंद करके जनाधार का नाम दिया, काम वही था।

By: Umesh Sharma

Published: 30 Jan 2021, 09:02 PM IST

जयपुर।

भाजपा प्रदेशाध्यक्ष डॉ. सतीश पूनिया ने आयुष्मान भारत महात्मा गांधी राजस्थान स्वास्थ्य बीमा योजना की शुरुआत पर सरकार को घेरा है। उन्होंने आरोप लगाया है कि राजस्थान में गहलोत सरकार ने भामाशाह कार्ड को बंद करके जनाधार का नाम दिया, काम वही था। इसी तरीके से भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना को बंद किया, केवल टाइटल बदलने के चक्कर में पिछेल डेढ़ साल में राजस्थान की जनता इस पूरे नि:शुल्क इलाज की व्यवस्था से वंचित रही।

पूनिया ने कहा कि कोरोना के कालखण्ड में देखा गया कि तमाम नॉन कोरोना पेशेंट को प्राइवेट हॉस्पिटल्स में गम्भीर बीमारियों में मौत के आगोश में जाना पड़ा, ये गहलोत सरकार की नाकामी थी। दुर्भाग्यपूर्ण था कि हमारे जोधपुर के एम्स में पंजाब एवं अन्य राज्यों के व्यक्ति आयुष्मान का लाभ लेते थे और राजस्थान के लोग लाभ नहीं ले पाते थे। इसकी ठीक से क्रियान्विति हो और नीचे के व्यक्ति तक इसका लाभ मिले। जरूरी यह है कि इसको राज्य सरकार अच्छी तरीके से लागू करे।

भाजपा प्रदेशाध्यक्ष डाॅ. सतीश पूनियां ने मीडिया से बातचीत में आगामी आम बजट को लेकर कहा कि वैश्विक महामारी में भी मोदी सरकार के कुशल नेतृत्व में खेती की जीडीपी अच्छी रही। मुझे पूरी उम्मीद है कि बजट में भी मोदी सरकार का विशेष फोकस खेती पर रहेगा, जिससे खेती और उससे जुड़े हुए उद्योगों को सम्बल मिलेगा, इस बार का बजट और अधिक लोककल्याणकारी होगा। अनुमान बताते हैं कि आने वाले समय में 2021-2022 में जीडीपी की ग्रोथ भी ज्यादा होगी।

Umesh Sharma Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned